Saturday , February 24 2024

गीत-संगीत और हंसी ठिठोली के बीच महिलाओं ने कुछ इस अंदाज में मनाया तीज उत्सव

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। गोमती तट पर बीरबल साहनी मार्ग स्थित श्री खाटू श्याम मंदिर में श्री श्याम श्रावणी तीज उत्सव उल्लासपूर्वक मनाया गया। परंपरागत और आधुनिक डिजाइनों के लिए समान रूप से प्रसिद्ध ज्वेलरी प्रतिष्ठान लाला जुगल किशोर ज्वैलर्स द्वारा प्रायोजित इस कार्यक्रम का आयोजन श्री श्याम परिवार द्वारा किया गया था। 

लाला जुगल किशोर ज्वैलर्स की ज्वेलरी डिज़ाइनर तान्या रस्तोगी ने निर्णायक के रूप में विभिन्न मानकों पर परख कर तीज क्वीन का चुनाव किया। इस अवसर पर ज्वेलरी डिज़ाइनर तान्या रस्तोगी ने कहा- “तीज आस्था, प्रेम, सौंदर्य व उमंग का त्योहार है। लाला जुगल किशोर ज्वैलर्स ने श्री श्याम श्रावणी तीज उत्सव को प्रायोजित कर महिलाओं को अपनी जड़ों से जोड़ने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है। भारतीय महिलाओं की सांस्कृतिक मान्यताओं का प्रतीक श्रावणी तीज पर्व दंपतियों के वैवाहिक जीवन में समृद्धि, खुशी और तरक्की का प्रतीक है।“ उन्होंने कहा ‘’लाला जुगल किशोर ज्वेलर्स अपने आभूषणों में परम्परागत और आधुनिकतम डिजाइनों का समन्वय कर पीढ़ियों के बीच संस्कृति और सभ्यता के प्रवाह को सहज और सरल बनाने में योगदान दे रहे हैं।”

हाथ-पैरों में तरह-तरह के बेल-बूटे वाली मेहंदी, बालों में फूलों का जूड़ा, हरे रंग के विभिन्न शेड्स वाली खूबसूरत साड़ियां, लहंगा-चोली, ओढ़नी, आभूषणों में नथनी, बोरला और तगड़ी, वातावरण में संस्कृति की उमंग, मधुर ध्वनि में गूंजता संगीत, परस्पर हंसी-ठिठोली, उन्मुक्त ठहाके… रोजमर्रा की एकरस जिन्दगी से बिलकुल अलग, महिलाओं ने श्रावणी तीज के उमंग में जमकर मस्ती की। 

कार्यक्रम का सबसे बड़ा आकर्षण तीज क्वीन प्रतियोगिता रही, जिसमें खूब सजी-धजी महिलाओं ने जोश-खरोश से हिस्सा लिया। इससे पहले इस आयोजन में नृत्य-संगीत के कई कार्यक्रम आयोजित किये गये। सखियां हाथों में हाथ डालकर ऐसे झूमकर नाचीं, जैसे हरियाली के साथ प्रकृति एकाकार हो गयी हो। महिलाओं ने दूर देश गए पति के तीज पर आने की कामना की, जो उनके लोकगीतों में भी मुखरित हुई। रंगारंग मेला भी लगाया गया। चटोरी गली में ढेरों सुस्वादु व्यंजनों ने महिलाओं को खूब लुभाया। आज के मेल-मिलाप की यादों को संजोने के लिए महिलाओं ने सेल्फी प्वाइंट पर अलग-अलग कोण से खूब तस्वीरें लीं।