Saturday , May 25 2024

श्री बंदी माता मंदिर के 41वें वार्षिक अनुष्ठान में पर्यावरण आंदोलन सेना के सैनिक सम्मानित


 

श्री बंदी माता मंदिर डालीगंज का 41वां वार्षिक अनुष्ठान

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। श्री बंदी माता मंदिर डालीगंज के 41वें वार्षिक अनुष्ठान में पर्यावरण प्रहरियों का सम्मान हुआ। सात दिन के इस अनुष्ठान के छठे दिन मंगलवार की शुरुआत श्री सप्तचंडी महायज्ञ से हुई। संत-महात्माओं के सानिध्य में श्रद्धालुओं ने यज्ञ में आहुतियां दीं। वृंदावन की कथा व्यास रोली शास्त्री ने गोवर्धन पर्वत की कथा कही। शाम को मथुरा के कलाकारों ने भक्त मीरा के प्रसंग का प्रभावी मंचन किया। इस अवसर पर क्षेत्रीय विधायक डॉ. नीरज बोरा ने स्वच्छ पर्यावरण आंदोलन सेना के स्वयंसेवकों को सम्मानित किया।

स्वच्छ पर्यावरण आंदोलन सेना के संयोजक व मनकामेश्वर मंदिर वार्ड के पार्षद रंजीत सिंह ने गोमती नदी सफाई अभियान की यात्रा व उपलब्धियां बताईं। उन्होंने कहाकि सेना गोमती नदी के स्वच्छता अभियान के  267 साप्ताहिक रविवार पूर्ण कर चुकी है। इस अभियान में गृहणियां, पूर्व प्रशासनिक अधिकारी, खिलाडी, वकील और चिकित्सक सहित अन्य नागरिक जुडे हैं। हमारा संकल्प आदि गंगा गोमती की निर्मलता को वापस लाना है। नदी का प्राचीन गौरव पुन: स्थापित करना है। वीरेंद्र जोशी, ललित, प्रीति जैन, मीना पांडे, सरिता जायसवाल, अर्चना सिंह, मनोज सिंह, रिंकू सिंह, उदय सिंह, जेपी गुप्ता, प्रेम प्रकाश, आनन्द वर्मा, सुशांत, राजेश जोशी,संकल्प,रमेश जोशी, रामकुमार वाल्मिकी आयुष बंसल सविता, मुकेश चौरसिया, सुमित कश्यप दिनेश पांडेय सहित अन्य स्वयंसेवक मौजूद रहे। 

सात दिवसीय वार्षिक अनुष्ठान श्री बंदी माता अखाड़ा समिति कर रही है। जो श्री बंदी माता मंदिर अखाड़ा समिति के अध्यक्ष व श्री पंचदशनाम जूना अखाड़ा के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष महंत देवेंद्र पुरी जी महाराज के सानिध्य में हुआ। मंगलवार को महामंडलेश्वर स्वामी श्री विनोदनंद पुरी जी महाराज का भव्य अभिनंदन अभिषेक होगा। उन्होंने बंदी माता मंदिर में पूजन किया। बंदीमाता मंदिर अखाड़ा समिति के मंत्री महंत मनोहर पुरी ने बताया कि आज जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर पद पर विराजमान हुए। बुधवार को विभिन्न प्रांतों के संत-महात्मा संत सम्मेलन में इकट्ठा होंगे। क्षेत्रीय पार्षद रणजीत सिंह के संयोजन में आयोजित वार्षिक अनुष्ठान में श्री बंदी माता मंदिर अखाड़ा समिति की संगठन मंत्री और पंचदशनाम जूना अखाड़ा की महंत-  महंत पूजापुरी, पूर्व पार्षद रेखा रोशनी, महंत भूपेंद्र पुरी, पुजारी भास्कर पुरी, यज्ञाचार्य प्रदीप पंचाल सहित अन्य साधुसंत मौजूद रहे। सप्तचंडी यज्ञ बंदीमाता मंदिर महाराज रोशनपुरी, जूना अखाड़ा के थानापुरी महंत राजपुरी, सप्तचण्डी यज्ञाचार्य महंत शिवानन्द पुरी व आचार्य प्रदीप पंचाल सहित अनेक ब्राह्मणों के सानिध्य में हुआ।