Sunday , March 3 2024

बाल स्वास्थ्य पोषण माह का आगाज, 4.03 लाख बच्चे पियेंगे विटामिन ए की दवा

 

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। जनपद में शनिवार को औपचारिक रूप से बाल स्वास्थ्य पोषण माह (बीएसपीएम) की शुरुआत हुई। इसके तहत नौ माह से पाँच साल तक के बच्चों को विटामिन ए की दवा पिलाई जाती है। इसी क्रम में मोहनलालगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर विधायक अमरेश कुमार ने बच्चों को विटामिन ए की दवा पिलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य कार्यकर्ता सभी लक्षित बच्चों को विटामिन ए की दवा पिलाएं कोई भी बच्चा दवा पीने से न रह जाए।

इस मौके पर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. एपी मिश्रा ने कहा कि बच्चों में विटामिन ए की कमी से रतौंधी जैसी आँख संबंधी बीमारियों का खतरा रहता है। इसके साथ ही यह विटामिन बच्चों में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी अहम भूमिका निभाता है। इसी उद्देश्य के साथ विटामिन ए संपूरण कार्यक्रम के तहत साल में दो बार छह-छह  माह के अंतराल पर बीएसपीएम आयोजित होता है।

उन्होंने बताया कि नौ से 12 माह के बच्चे को विटामिन ए की एक मिली खुराक नियमित टीकाकरण सत्र के दौरान मीजल्स रूबेला (एमआर) के पहले टीके के साथ, 16 से 24 माह के बच्चों को विटामिन ए की दो मिली खुराक एमआर के दूसरे टीके के साथ और दो से पाँच साल के बच्चों को छह-छह माह के अंतराल पर विटामिन ए की दो मिली खुराक पिलाई जाती है। नौ माह से पाँच साल तक के 4.35 लाख बच्चों को विटामिन ए की दवा पिलाने का लक्ष्य है। यह दवा छाया ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस एवं शहरी स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस के माध्यम से बच्चों को दी जाएगी। इस कार्यक्रम का संचालन एएनएम, आशा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के द्वारा किया जाएगा। बच्चों को दी जाने वाली सभी खुराकों की एंट्री ई-कवच पोर्टल और मातृ शिशु सुरक्षा कार्ड पर की जाएगी। इसके साथ ही विटामिन ए की जो भी बोतल खोली जाएगी उस पर तिथि और खोले जाने का समय लिखा जाएगा।

इस अवसर पर सीएचसी अधीक्षक डा. अशोक कुमार, जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी योगेश रघुवंशी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक सतीश यादव, यूनिसेफ़ के प्रतिनिधि, सीएचसी के कर्मचारी और बड़ी संख्या में लाभार्थी मौजूद रहे।