Friday , March 1 2024

‘एक ट्रिलियन अर्थव्यवस्था के लिए उत्तर प्रदेश का रोडमैप’ पर की चर्चा

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी एक ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था के संदर्भ में ‘एक ट्रिलियन अर्थव्यवस्था के लिए उत्तर प्रदेश का रोडमैप’ विषय पर भारतीय रिज़र्व बैंक में सोमवार को उच्च स्तरीय विचार विमर्श एवं चर्चा की गई। इस अवसर पर अर्थशास्त्री और नेताजी सुभाष चंद्र बोस राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय अलीगंज में अर्थशास्त्र विषय के सहायक प्रोफेसर डा. जय प्रकाश वर्मा को विशेषज्ञ के रूप में आमंत्रित किया गया। उन्होंने एक ट्रिलियन डालर इकॉनमी के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के रोड मैप पर विस्तार से चर्चा की।

अपने उद्बोधन में उन्होंने कहाकि योगी सरकार प्रदेश की अर्थ व्यवस्था को अगले पांच वर्षों में एक ट्रिल्यन तक ले जाने के लिये कटिबद्ध है। प्रदेश सरकार ने इस दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। विभिन्न क्षेत्रों के लिए बजट आबंटन को बढ़ाना, निवेश के लिए सकारात्मक वातावरण, ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट, आधारभूत संरचना का विकास, कृषि क्षेत्र के विकास पर अत्यधिक बल तथा कृषि के लिए बजट आबंटन में वृद्धि, स्टार्टअप, पर्यटन स्थलों का विकास एवं ओडीओपी के माध्यम से हर ज़िले के उत्पाद को बढ़ावा दिया जा रहा है। कौशल विकास के माध्यम से रोजगार का सृजन किया जा रहा है। उन्होंने कहाकि प्रदेश में हुई क़ानून व्यवस्था में सुधार से बड़ी मात्रा में बाहरी निवेशक आकर्षित हुए हैं। जी -20 समिट के माध्यम से भारत का वैश्विक स्तर पर भी निवेश के लिए अनुकूल वातावरण बन रहा है। इस अवसर पर रिज़र्व बैंक के विभिन्न अधिकारी गण और स्टाफ़ सदस्य मौजूद रहे।