Friday , June 21 2024

AKTU : इनोवेशन हब ने फिक्की फ़्लो और टाई के साथ किया एमओयू 

– महिला उद्यमियों को इस समझौते से मिलेगा फायदा, फिक्की फ़्लो के संग मिलकर आयोजित होंगे कई कार्यक्रम 

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के साथ ही नवाचार और उद्यमिता को आगे ले जाएगा। इस दिशा में विश्वविद्यालय के इनोवेशन हब ने बुधवार को कुलपति प्रो0 जेपी पांडेय के मौजूदगी में फिक्की फ़्लो और टाई के साथ एमओयू किया है। इसके तहत इनोवेशन हब फिक्की फ़्लो  लखनऊ के साथ महिला उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करेगा। साथ ही निवेश, समूह, कार्यशालाओं, सेमिनार आयोजित किये जाएंगे। सफल महिला उद्यमियों के अनुभव का लाभ महिला स्टार्टअप को मिलेगा। साथ ही उनका मेंटॉरशिप भी रहेगा। जिससे प्रदेश में महिला उद्यमिता का माहौल बनेगा। फिक्की फ़्लो लखनऊ के सदस्य इनोवेशन हब को नवाचार और उद्यमिता में सहायता करेंगे। साथ ही स्टार्टअप, फंडिंग, स्केलेबिलिटी, प्रौद्योगिकी हस्तांतरण की समझ के साथ इनोवेशन हब को ज्ञान और सलाहकार पूल समर्थन प्रदान करेंगे। सदस्य स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र बनाने के लिए विभिन्न संस्थानों को विज़िट करेंगे और विभिन्न इनक्यूबेशन केंद्रों में स्थानीय पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने में सहायता करेंगे। इनोवेशन हब स्टार्टअप्स को एक्सपोजर देने और पारस्परिक हित के सार्थक कार्यक्रमों में एक-दूसरे को शामिल करने के लिए फिक्की फ़्लो  लखनऊ के साथ उद्यमिता महिला-विशिष्ट कार्यक्रमों पर संयुक्त कार्यक्रमों की मेजबानी करेगा।  छात्रों को ग्रैंड चैलेंज और हैकथॉन में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करेगा। वहीं, टाई के साथ हुए दूसरे एमओयू के तहत नवाचार और उद्यमिता के लिए फंड जुटाने से लेकर इको सिस्टम बनाने पर सहायता मिलेगी। 

इस मौके पर प्रतिकुलपति प्रो. मनीष गौड़ ने कहाकि एमओयू से उद्यमिता और नवाचार की दिशा में काफी फायदा होगा। खासकर महिला उद्यमियों को बहुत फायदा मिलेगा। एसो0 डीन डॉ. अनुज कुमार शर्मा ने सभी आगंतुकों का स्वागत करते हुए कहा कि यह बहुत खुशी और गर्व की बात है कि हम फिक्की एफएलओ लखनऊ के साथ समझौता रक रहे हैं। इससे महिला उद्यमियों को काफी लाभ मिलेगा। कार्यक्रम के दौरान फिक्की फ़्लो की अध्यक्ष स्वाति वर्मा के बीच एमओयू का आदान-प्रदान किया गया। इस अवसर पर सिमरन साहनी, सचिन साहनी, चेयरपर्सन, टाई लखनऊ सहित अन्य लोग मौजूद रहे। स्टार्टअप्स को इन्वेस्टबिल कैसे बनाया जाए इस पर सचिन साहनी ने एक सेशन किया जिसमे 30 स्टार्टअप्स ने प्रतिभाग किया। इस अवसर पर इनोवेशन हब के हेड महीप सिंह ने इनोवेशन हब, उत्तर प्रदेश के बारे में जानकारी दी। वहीं वंदना शर्मा ने स्टार्टअप नीति के लाभों के बारे में बताया। धन्यवाद रितेश सक्सेना ने दिया।