Saturday , May 25 2024

ऑटोमेटिक व्यवस्था के अन्तर्गत मशीन द्वारा आसानी से प्राप्त हो सकेगा खाद्यान्न, राज्यमंत्री ने किया शुभारंभ

जानकीपुरम में लगी अन्नपूर्ति एटीएम मल्टीग्रेन मशीन

प्रदेश सरकार की अनूठी पहल है, जिससे शत-प्रतिशत पारदर्शी वितरण हो सकेगा – सतीश चन्द्र शर्मा

राज्यमंत्री ने 20 नए राशन कार्डधारकों को राशनकार्ड और प्रधानमंत्री उज्ज्वला के 20 पात्र लाभार्थियों को कनेक्शन भी बांटे

लखनऊ। राशन वितरण प्रणाली को पारदर्शी बनाने के लिए यूपी की दूसरी और लखनऊ में पहली ग्रेन एटीएम मशीन लगाई गई है। लखनऊ उत्तर विधानसभा क्षेत्र के सरैंया टोला जानकीपुरम में स्थित पंकज गिरी द्वारा संचालित उचित दर की दुकान में संयुक्त राष्ट्र संघ के वर्ल्ड फूड प्रोग्राम (डब्लूएफपी) के सहयोग से क्रियाशील की गयी अन्नपूर्ति एटीएम मल्टीग्रेन मशीन का शुभारम्भ बुधवार को प्रदेश के खाद्य एवं रसद राज्यमंत्री सतीश चन्द्र शर्मा ने किया। उन्होंने कई कार्ड धारकों को अपने सामने राशन वितरण भी कराया। इस अवसर पर उन्होंने कहाकि प्रदेश सरकार द्वारा राशनकार्ड लाभार्थियों को उसके राशनकार्ड पर अनुमन्य खाद्यान्न, आधार आधारित व्यवस्था के माध्यम से ऑटोमेटिक व्यवस्था द्वारा उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है। इससे लाभार्थियों को ऑटोमेटिक व्यवस्था के अन्तर्गत मशीन द्वारा आसानी से उन्हें अनुमन्य खाद्यान्न प्राप्त हो सकेगा।

श्री शर्मा ने कहा कि यह प्रदेश सरकार की अनूठी पहल है, जिससे शत-प्रतिशत पारदर्शी वितरण हो सकेगा। इस मशीन से अंगूठा लगा कर तौल हो सकेगी और घटतौली की सम्भावना बिल्कुल नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि इस मशीन के माध्यम से खाद्यान्न का वितरण प्रदेश में किए जा रहे विभागीय तकनीकी अनुप्रयोगों में से एक सराहनीय कदम है, जिसे आम लोगों को बहुत ही लाभ होगा।

श्री शर्मा ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ के मार्गदर्शन में निःशुल्क राशन के अलावा विभिन्न योजनाओं से गरीबों और जरूरतमंदों को लाभान्वित किया जा रहा है। जहां पूरे विश्व में खाद्यान्न का संकट रहा है, वहीं योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में लगभग 30 माह तक गरीबों को निःशुल्क राशन बांटा गया है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा एनएफएसए के अन्तर्गत माह जनवरी, 2023 से माह दिसम्बर, 2023 तक खाद्यान्न के निःशुल्क वितरण के निर्देशों के क्रम में प्रदेश में निःशुल्क खाद्यान्न का वितरण लाभार्थियों को सुनिश्चित कराया जा रहा है।

राज्यमंत्री ने जनता से अपील भी की है, जो राशनकार्ड धारक पात्र नहीं हैं, वह अपनी स्वेच्छा से अपना कार्ड सरेण्डर कर सकते हैं, ताकि इसका लाभ जरूरतमंदों को मिल सके। उन्होंने सराहना करते हुए कि अब तक 08 लाख से अधिक अपात्र लोगों ने स्वेच्छा से आगे बढ़कर अपना राशन कार्ड सरेण्डर किया है, जिसका लाभ अन्य गरीबों और असहाय लोगों को मिल रहा है।

इस कार्यक्रम में राज्यमंत्री ने 20 नए कार्डधारकों को राशनकार्ड भी प्रदान किया, जिसमें से 03 अन्त्योदय राशनकार्डधारकों को अन्नपूर्ति एटीएम मशीन के माध्यम निःशुल्क खाद्यान्न भी वितरित किया। इसके अलावा प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत 20 पात्र लाभार्थियों को नवीन कनेक्शन भी प्रदान किये गये।

इस अवसर पर अपर खाद्य आयुक्त अखिल कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी नागरिक एवं आपूर्ति साहब लाल,  जिला पूर्ति अधिकारी सुनील सिंह, क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी संतोष कुमार सिंह, पार्षद प्रतिनिधि दीपक मिश्रा, भाजपा नगर कार्यसमिति सदस्य सतीश वर्मा, वार्ड अध्यक्ष सर्वेश सिंह के अलावा दिनेश शुक्ला, रामसुरेश सिंह सहित खाद्य एवं रसद विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

टच स्क्रीन और बायोमैट्रिक मशीन से सुसज्जित यह मशीन एक बैंक एटीएम की तरह काम करती है जिसके जरिये लाभार्थी को निर्धारित मात्रा में राशन प्रदान किया जाता है। इस मशीन को इस्तेमाल करने के लिए लाभार्थी को सबसे टच स्क्रीन की सहायता से मशीन में अपना राशन कार्ड नंबर अथवा आधार नंबर डालना होगा। इसके बाद बायोमैट्रिक मशीन में अँगूठा लगाकर अपनी पहचान को भी वेरिफाई करना होगा। वेरिफिकेशन के बाद लाभार्थी को निर्धारित मात्रा में अनाज मशीन के नीचे लगे बैग में प्राप्त हो जायेगा। यह मशीन गेहूं, चावल एवं बाजरे का वितरण करने में सक्षम है।