Tuesday , July 16 2024

‘विकसित भारत की संकल्‍पना एवं उसका क्रियान्‍वयन’ विषय पर राष्‍ट्रीय संगोष्‍ठी 6 जनवरी को

वर्धा (टेलीस्कोप टुडे डेस्क)। महात्‍मा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय में भारत सरकार की महत्‍वाकांक्षी योजना ‘विकसित भारत @२०४७’ के अंतर्गत ‘विकसित भारत की संकल्‍पना एवं उसका क्रियान्‍वयन’ विषय पर राष्‍ट्रीय संगोष्‍ठी का आयोजन शनिवार को ग़ालिब सभागार में किया जाएगा। इस अवसर पर अटल बिहारी वाजपेयी विश्‍वविद्यालय, बिलासपुर के कुलपति प्रो. एडीएन वाजपेयी, पंजाब केंद्रीय विश्‍वविद्यालय, भटिंडा के कुलपति प्रो. राघवेन्‍द्र प्रसाद तिवारी, इग्‍नू, नई दिल्‍ली के प्रति कुलपति प्रो. किरन हजारिका, राष्‍ट्रीय आदिवासी शिक्षा समिति, नई दिल्‍ली के आयुक्‍त असित गोयल, भाषा साहित्‍य भवन, गुजरात विश्‍वविद्यालय के पूर्व निदेशक प्रो. कमलेश चौकसी, केंद्रीय विश्‍वविद्यालय, तमिलनाडु, हिंदी विभाग के अध्‍यक्ष प्रो. एसवीएस नारायण राजू, हिंदी भाषा विभाग, त्रिपुरा विश्‍वविद्यालय, अगरतल्‍ला की सह प्राध्‍यापक डॉ. मिलन रानी जमातिया, इग्नू, नई दिल्‍ली के ग्रामीण विकास विभाग के सहायक प्रोफेसर डॉ. बूटा सिंह वक्तव्य देंगे।

संगोष्‍ठी के संरक्षक विवि के कुलपति डॉ. भीमराय मेत्री हैं। संगोष्ठी के संयोजक हिंदी साहित्‍य विभाग के अध्‍यक्ष प्रो. अवधेश कुमार, सह-संयोजक डॉ. भदन्‍त आनंद, कौसल्‍यायन बौद्ध अध्‍ययन केंद्र के सहायक प्रोफेसर डॉ. कृष्‍ण चंद्र पाण्‍डेय हैं। कार्यक्रम में उपस्थित रहने का आह्वान विवि के कुलसचिव डॉ. धरवेश कठेरिया ने किया है।