Saturday , February 24 2024

“गुरु सरोजा वैद्यनाथन सम्मान” से सम्मानित हुई डॉ. आकांक्षा श्रीवास्तव और डॉ. मनीषा मिश्रा

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। श्री राम लीला समिति ऐशबाग में स्वर्ण हंस नृत्य कला मंदिर का 14 वार्षिक उत्सव एवं गुरु सरोजा वैद्यनाथन सम्मान समारोह” आयोजित किया गया। जिसमे स्वर्ण हंस नृत्य कला मंदिर पदमभूषण कलाश्री सय्यद शमशुर रहमान के प्रशिक्षण में नृत्य की शिक्षा प्राप्त कर रहे शिष्य एवं शिष्याओं ने नृत्य की मनमोहक प्रस्तुतियां दी। “श्री राम चरितार्थं” शीर्षक कार्यक्रम में भगवान राम पर आधारित  कार्यक्रम प्रस्तुत किये गए। जिसका शुभारम्भ “शुद्धं ब्रह्मा परात्पर राम” से किया गया। दूसरी प्रस्तुति तुलसीदास द्वारा रचित भजन “श्री राम चंद्र कृपालु भजमन” थी। इसके पश्चात् कलाकारों ने “रामायण शब्दम” की प्रस्तुति में सीता स्वयम्बर, मारीच वध, सीता हरण, हनुमान और सीता मिलन सहित अन्य दृश्यों को बखूबी दर्शाया। भगवान विष्णु के 10 अवतारों पर आधारित प्रस्तुति “दशावतार” नृत्य नाटिका भी प्रस्तुत की गयी। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण “श्री त्यागराज कृत कीर्तनम सामजा वरा गमना” रहा, जिसमें भगवान राम और कृष्ण की चाल की तुलना एक हाथी की चाल से की गयी। कार्यक्रम का समापन पारंपरिक नृत्य “तिल्लाना” से किया गया जो “देश राग” पर आधारित था। जिसमे भगवान राम के परम भक्त हनुमान की स्तुति की गयी।

इस अवसर पर कथक विधा  की विश्वख्याति प्राप्त कत्थक गुरु एवं नृत्यांगनाये डॉ. आकांक्षा श्रीवास्तव और डॉ. मनीषा मिश्रा को “गुरु सरोजा वैद्यनाथन सम्मान” से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में  सुनयना, अनुष्का प्रकाश, आर्यका अश्वनी, अभिलाषा, पंकज, अनुज, अरुणिमा, अनुष्का श्रीवास्तव, ख़ुशी, यशिका, व्रती, ज्योति, मेनका, देवांशी, अभय, दिया आदि ने नृत्य की धमाकेदार प्रस्तुति दी।