Wednesday , May 29 2024

स्टेट हैण्डलूम एक्सपो-2023 में आकर्षण का केन्द्र बनी पश्चिम बंगाल के मसलन कार्टर की साड़ियां


लखनऊ। संत रविदास म. प्र. हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम मर्या० ग्वालियर के द्वारा स्टेट हैण्डलूम एक्सपो-2023 का आयोजन विकास आयुक्त (हथकरघा वस्त्र मंत्रालय, भारत सरकार नई दिल्ली) के सहयोग से लखनऊ में राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित स्टेट हैण्डलूम एक्सपो-2023 में लघु भारत का दर्शन हो रहा है। इस प्रदर्शनी में पश्चिम बंगाल के मसलन कार्टर की साड़ियां आकर्षण का केन्द्र बनी है। 14 मार्च तक सेक्टर-जे, आशियाना के कथा मैदान चलने वाले में स्टेट हैण्डलूम एक्सपो में आठ राज्यों के लगभग 70 बुनकर सरकारी समितियां शामिल हैं।

इसमें उत्तर प्रदेश की बनारसी सिल्क, एमपी की चंदेरी, बिहार भागलपुर की सिल्क, हरियाणा पानीपत की चादरें, राजस्थान की रजाई उपलब्ध है। एक जिला एक उत्पाद अवधारणा अन्तर्गत कुटीर एवं ग्रामोद्योग विभाग से संयोजित भोपाल की जरी जरदोजी एवं अशोक नगर चंदेरी वस्त्र महेश्वरी धार की बाग प्रिंट की सामग्री इस प्रदर्शनी में उपलब्ध है।

स्टेट हैण्डलूम एक्सपो में सांस्कृतिक कार्यक्रमों संग बुनकरों की कार्यशाला, चौपाल का आयोजन कर विभिन्न योजनाओं की जानकारी भी दी जा रही है। स्टेट हैण्डलूम एक्सपो 14 मार्च तक प्रतिदिन दोपहर 12 बजे से रात्रि 9 बजे तक खुला रहेगा।

अनुभा श्रीवास्तव (आईएसएस, आयुक्त सह प्रबंध संचालक, म.प्र. हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम) का प्रयास है कि ऐतिहासिक नगरी लखनऊ में उत्तर प्रदेश के साथ भारत के विभिन्न राज्यों के बुनकरों की हथकरघा कला की प्रदर्शनी सह विपणन हो, जिससे बुनकरों को आर्थिक रोजगार प्राप्त हो सके एवं लखनऊ वासियों को भारत के विभिन्न राज्यों की हाथकरघा सामग्री स्टेट हैण्डलूम एक्सपो-2023 भारत के विभिन्न राज्यों के बुनकरों के माध्यम से प्राप्त हो सके।