Wednesday , April 24 2024

निडर, साहसी लड़की के संघर्ष की कहानी है फ़िल्म “JAGRITI”, नवाबों के शहर में होगी शूटिंग

लखनऊ (शम्भू शरण वर्मा/टेलीस्कोप टुडे)। अक्सर हमारी बॉलीवुड फिल्मों में यही देखने को मिलता है कि क्राइम हो जाने के बाद ही पुलिस प्रशासन सक्रिय होता है। यही हाल पीड़ित के साथ भी होता है। अपराध हो जाने के बाद ही पीड़ित इंसाफ पाने के लिए कोर्ट, पुलिस और आला अधिकारियों की शरण में जाता है। लेकिन फिल्म जागृति (the awakening) एक निडर, साहसी लड़की के उस संघर्ष की कहानी है जिसने क्राइम होने की भनक मिलते ही संघर्ष शुरू किया। सत्ता में बैठे पावरफुल लोग, पुलिस और अपराधियों के खिलाफ ऐसा संघर्ष किया कि जीत इसी लड़की की हुई।

गोमती नगर के एक होटल में फिल्म ‘जागृति’ का मुहूर्त कुमकुम रॉय चौधरी ने क्लैप देकर किया। तत्पश्चात फिल्म की पूरी टीम द्वारा इस अवसर पर पूजन किया गया। कुमकुम रॉय चौधरी ने कहाकि महिलाओं को जागरूक करने और उनके साथ हो रहे अपराध पर अंकुश लगाने में यह फ़िल्म अहम भूमिका निभाएगी।

इस साल की आखिरी तिमाही में रिलीज होने वाली फिल्म जागृति (the awakening) की मेकर कम्पनी, फिल्म के डायरेक्टर, राइटर और फिल्म में लीड किरदार निभा रहे एक्टर रजनीश दुग्गल, आस्कर में एंट्री पाने वाली फिल्म न्यूटन में अहम किरदार निभा चुकी एक्ट्रेस अंजलि पाटिल भी मुहूर्त के मौके पर मौजूद रहे।

परिवार फिल्म्स लिमिटेड और ग्रीन आई प्रोडक्शन प्राइवेट लिमिटेड के बैनर तले बनने वाली इस फिल्म की शूटिंग भी स्टार्ट टू फिनिश लखनऊ के गोमती नगर सहित अलग अलग लोकेशन पर होगी।

फिल्म के डायरेक्टर हरीश कुमार ने बताया कि फिल्म सच के नजदीक लगे इसीलिए फिल्म की 100% फीसदी शूटिंग उत्तर प्रदेश में करेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी फिल्म नारी सशक्तिकरण और नारी के अबला नहीं सबला और कभी हार ना मानने वाली शक्ति होने का संदेश देती है। फिल्म की नायिका एक मिडिल क्लास फैमिली की है। स्टडी में हमेशा टॉप रहने वाली और अपनी योग्यता के दम पर एक कंपनी में प्रोजेक्ट मैनेजर का पद हासिल करने वाली फिल्म की नायिका को कंपनी का बॉस जब 50 करोड़ के एक प्रोजेक्ट को किसी भी तरह से हासिल करने के लिए जोर डालता है। तब नायिका अपना चंडी रूप दिखा सभी को हैरान कर देती है।

फिल्म के लेखक पुष्कर तिवारी के अनुसार यह फिल्म नारी शक्ति की गाथा है। जो डरकर हार ना मानने और संघर्ष करने का संदेश देती है। फिल्म महिलाओ को उनके अंदर पुलिस और न्याय व्यवस्था के प्रति निगेटिव नही पॉजिटिव सोच का संदेश देगी। फिल्म में वकील का किरदार निभा रहें कलाकार का मकसद पीड़ित को हर हाल में न्याय दिलाना है। अक्सर हमारी फिल्मों में पुलिस और वकील की इमेज बेहद निगेटिव होती है, लेकिन जागृति देखने के बाद दर्शको की सोच बदल जाएगी।

फिल्म के नायक रजनीश दुग्गल ने कहाकि मैंने जब फिल्म की स्क्रिप्ट और अपने रोल को सुना तो बिना एक पल गवाए फिल्म साइन कर ली। मुझे गर्व है कि मैं एक बेहतरीन प्रॉजेक्ट का हिस्सा हूं। उन्होंने कहा कि यूपी खासकर लखनऊ से उनका गहरा नाता है। इससे पहले भी वह कई शूटिंग यहां कर चुके है। उनकी मां भी वृंदावन में रहती हैं। रजनीश दुग्गल ने कहा कि यूपी काफी सुरक्षित राज्य है और यहां शूटिंग के लिए बेहतर माहौल है। सीएम योगी आदित्यनाथ फ़िल्म इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए सराहनीय कार्य कर रहे हैं।

न्यूटन में प्रमुख किरदार निभा चुकी जानी मानी एक्ट्रेस अंजलि पाटिल फ़िल्म में वकील के किरदार में नजर आएंगी। उन्होंने कहाकि मुझे खुशी है कि अब हमारी फिल्मों में महिलाओ को केंद्र में रखकर किरदार लिखे जा रहे है। यह फिल्म भी एक महिला के हार ना मानने और अपने स्ट्रगल को विजय तक ले जाने की कहानी है। मेरा किरदार फिल्म का एक अहम हिस्सा है। उन्होंने कहा कि वह पहली बार लखनऊ आई हैं लेकिन यहां के बारे में बहुत सुना है। वह खुद को बहुत सौभाग्यशाली समझती है कि वह पहली बार लखनऊ में शूट करेंगी। इस दौरान नवाबों के शहर को करीब से देखने व समझने का मौका भी मिलेगा। अंजली पाटिल ने कहाकि वह लखनऊ आकर काफी उत्साहित है और वह यहां की गलियों खासकर पुराने लखनऊ में जरूर घूमेंगी।