Tuesday , July 16 2024

अयोध्या में श्रीराम और कन्नौज में आंबेडकर का विरोध करती है सपा : योगी आदित्यनाथ

 

– मुख्यमंत्री ने कन्नौज में 352 करोड़ की 59 परियोजनाओं का किया लोकार्पण और शिलान्यास 

– विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान देने वाली मातृशक्ति का सीएम योगी ने किया सम्मान 

बोले सीएम – डबल इंजन सरकार आस्था का करती है सम्मान, देती है सुरक्षा का बेहतर वातावरण

– दिव्यांगजनों को मिले सपोर्ट तो बड़ी से बड़ी उपलब्धि भी उसके कदमों में होगी : योगी

कन्नौज (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। आज अगर समाजवादी पार्टी की सरकार होती तो अयोध्या में कभी भी श्रीराम का भव्य मंदिर नहीं बन पाता। सपाई अयोध्या में भगवान श्रीराम का और कन्नौज में आंबेडकर का विरोध करते हैं। मगर डबल इंजन की सरकार जहां एक तरफ विकास कार्यों को स्पीड से पूरा करती है वहीं आस्था का सम्मान भी करती है। ये बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अशोक नगर स्थित केके इंटर कॉलेज के बोर्डिंग ग्राउंड में जनसभा को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कन्नौज को 352 करोड़ रुपए की 59 परियोजनाओं की सौगात दी। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कन्नौज के सांसद सुब्रत पाठक के पिता स्व. ओम प्रकाश पाठक की पांचवीं पुण्यतिथि पर नमन किया। उनकी याद में सांसद द्वारा प्रतिवर्ष दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग और ट्राईसाइकिल दिये जाने की मुख्यमंत्री ने प्रशंसा की। सीएम योगी ने कहा कि दिव्यांगजनों को अगर समाज और सरकार से सपोर्ट मिले तो बड़ी से बड़ी उपलब्धि भी उनके कदमों में होती है। मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ समाजसेवी, उद्योग व्यापार के साथ राष्ट्रवादी मिशन के लिए जीवन समर्पित करने वाले स्व. ओम प्रकाश पाठक और भाजपा के वरिष्ठ नेता स्व. बनवारी लाल दोहरे को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की। 

अपने उद्बोधन में मुख्यमंत्री ने कन्नौज के गौरवमयी इतिहास की चर्चा करते हुए महाराज हर्षवर्धन को याद किया। उन्होंने कहा कि महाराज हर्षवर्धन अपनी दानवीरता के लिए जाने जाते हैं, जिन्होंने प्रयागराज के कुंभ को भव्यता प्रदान की। महाराज हर्षवर्धन ने कन्नौज से ही देश में रामराज्य की अवधारणा को पूरा किया था। आज एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में 500 साल के दंश को मिटाकर भव्य श्रीराम मंदिर का निर्माण पूरा कर लिया गया है। सीएम योगी ने कन्नौज की जनता को अयोध्या आकर श्रीराम मंदिर में दर्शन करने निमंत्रण भी दिया। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में भी कन्नौज को योग्य जनप्रतिनिधि का चुनाव करना है, जो उनके सुख-दु:ख में सहभागी बने और शासन की योजनाओं को जन जन तक बिना भेदभाव के पहुंचाए। मुख्यमंत्री ने सांसद सुब्रत पाठक की प्रशंसा करते हुए कहा कि एक अच्छा सांसद आपकी आवाज संसद में उठाता है।

सीएम योगी ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा कार्यकाल में बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के नाम पर संचालित कन्नौज के मेडिकल कॉलेज का नाम बदल दिया गया। उन्होंने कहा कि सपा को ना जाने क्यों बाबा साहेब से चिढ़ है। एक ओर सपाई अयोध्या में भगवान श्रीराम का विरोध करते हैं तो वहीं दूसरी तरफ कन्नौज में बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर का तिरस्कार करते हैं। समाजवादी पार्टी वोट तो जाति के नाम पर लेती है मगर काम केवल परिवार के लिए करती है। उन्होंने आश्वस्त किया कि कन्नौज मेडिकल कॉलेज का नाम फिर से बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर के नाम पर किया जाएगा। 

सीएम योगी ने कन्नौज के इत्र व्यापारियों को भी भरोसा दिलाया कि सरकार हमेशा उनके साथ है। इत्र के कारोबार में तकनीकि, पैकेजिंग, मार्केटिंग और एक्सपोर्ट के लिए बेहतरीन वातावरण तैयार किया जा रहा है। सीएम योगी ने कन्नौज में स्पोर्ट्स स्टेडियम के लिए स्थानीय जनप्रतिनिधियों से जल्द से जल्द प्रस्ताव भेजने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि डबल इंजन की सरकार के लिए जनसेवा व्रत और संकल्प है। प्रदेश सरकार कन्नौज को बेहतरीन इन्फ्रास्ट्रक्चर के साथ ही वर्ल्ड क्लास आईटीआई, स्किल डेवलपमेंट केंद्र भी प्रदान करेगी। कन्नौज के विकास में कोई भी रोड़ा नहीं अटका पाएगा। सरकार बिना भेदभाव और बिना तुष्टिकरण के योजनाओं का लाभ जनता तक पहुंचा रही है। 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को मकान की चाबी और प्रमाणपत्र प्रदान किया। इस दौरान प्रदेश सरकार में मंत्री स्वतंत्र देव सिंह, असीम अरुण, सांसद सुब्रत पाठक,  देवेन्द्र सिंह भोले, विजय कुमार दुबे, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रिया शाक्य, विधायक कैलाश सिंह राजपूत, अर्चना पांडेय, पूनम संखवार, भाजपा क्षेत्रीय अध्यक्ष प्रकाश पाल, जिलाध्यक्ष वीर सिंह भदौरिया, प्रदेश अध्यक्ष अनुसूचित मोर्चा रामचंद्र कन्नौजिया सहित अन्य गणमान्य मौजूद रहे। 

लोकार्पित होने वाली प्रमुख परियोजनाएं

क्षेत्रीय विधि विज्ञान प्रयोगशाला श्रेणी-ए, छिबरामऊ के तालग्राम देहात में राजकीय पॉलिटेक्निक भवन, जीटी रोड के किमी 348 जसौली वाया महाचंदापुर से वीपी मार्ग के किमी 238 तक का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, तिर्वा-खैरनगर-औसेर हमीरपुर मार्ग के किमी 0 से 10 तक का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, छिबरामऊ तहसील मुख्यालय को जोड़ने वाले छिबरामऊ-विशुनगढ़ मार्ग का चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण, तहसील तिर्वा में 48.54 एकड़ में निर्मित इत्र पार्क का फेज-1, टी-4 हरसेन से बेला रोड, खरगपुर से खड़नी तक सड़क, बेहरापुर-गैसापुर, हमीरपुर, पट्टी- बीबीपुर, मियागंज, जाफराबाद, खाण्डेदेवर, असलताबाद, नगला-दनुआ, ताहपुर एवं गदौरा में पेयजल परियोजना।

शिलान्यास होने वाली प्रमुख परियोजनाएं

नगर पंचायत समधन पेयजल पुनर्गठन परियोजना, ठठिया रजबहा के किमी 0 से किमी 20.203 तक पुर्स्थापना एवं नहरी भूमि की सीमांकन कार्य परियोजना, उमगरा से बारापुल, सुल्तानपुर से बंसरामऊ, हरौली से मन्नापुरवा, पाण्डेयपुरवा से मूसरि, अगौस से साहियापुर, सूरजपुर से परसरामऊ, एरुहो से बैरगरा, बसवारी से इब्राहीमपुर नगरीय, ककरैया मार्ग से नगला हसे, नगला विशुना से मिश्राबाद, बेहटा खास खानपुर कसवा, महमूदपुर खास नादनपुर की पुलिया से शंकरपुर लोकपुर, कसावा से पलिया बूचपुर एवं तालग्राम में इंदुयागंज से मीरपुर संपर्क मार्ग।