Saturday , February 24 2024

पेप्सिको इंडिया : प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट प्रोग्राम “टाइडी ट्रेल्स” का आगरा में किया विस्तार

आगरा (टेलीस्कोप टुडे डेस्क)। पेप्सिको इंडिया ने द सोशल लैब (टीएसएल) के साथ मिलकर प्लास्टिक सर्कुलेरिटी पर शिक्षा और जागरूकता पर केंद्रित एक पहल टाइडी ट्रेल्स का आज उत्तर प्रदेश के आगरा में विस्तार करने की घोषणा की है। आगरा नगर निगम के सहयोग से, यह पहल शहर में प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट और रीसाइक्लिंग को बढ़ावा देने के लिए दुकानों के साथ सर्वोत्तम तरीकों का साझा करेगी। 

इस पहल के हिस्से के रूप में, आगरा में स्थानीय दुकानों का दौरा करने के लिए एक समर्पित मोबाइल वैन तैनात की गई है। जो पांच मार्केट एसोसिएशन में 500 से ज्यादा दुकानों से पोस्ट-कंज्यूमर प्लास्टिक वेस्ट को एकत्र करती है। पायलेट परियोजना के पहले महीने में, रोजाना औसतन 50 किलोग्राम से अधिक प्लास्टिक कचरा एकत्रित किया गया और रीसाइक्लिंग के लिए भेजा गया। लॉन्च के अवसर पर दुकानदारों को 500 से ज्यादा विशेषरूप से ब्रांडेड डस्टबिन भी वितरित किए गए।   

टाइडी ट्रेल्स आगरा चैप्टर का ई-शुभारंभ अश्विनी कुमार चौबे (केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन राज्य मंत्री) ने किया। निर्मला दीक्षित (सदस्य, उत्तर प्रदेश महिला आयोग) द्वारा हरी झंडी दिखाई गई। इस अवसर पर उमेश गर्ग (स्वतंत्र निदेशक, आईएफसीआई लिमिटेड), सैय्यद अरीब अहमद (आईपीएस, डीएसपी, आगरा पुलिस), पंकज भूषण (पर्यावरण इंजीनियर, आगरा), सुदेश यादव (स्वच्छ भारत अभियान, प्रमुख आगरा), एके श्रीवास्तव (सीएमओ, आगरा), गरिमा सिंह (चीफ गवर्नेमेंट अफेयर्स और कम्यूनिकेशंस ऑफिसर, पेप्सिको इंडिया), साहिल अरोरा (सीईओ, द सोशल लैब) और आदेश गुप्ता (डायरेक्टर, एडवाइजरी बोर्ड, द सोशल लैब) सहित कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।    

कंपनी के पेप+ (पेप्सिको पॉजिटिव) प्रतिबद्धता के अनुरूप, पेप्सिको इंडिया ने एक ऐसी दुनिया का निर्माण करने में मदद करने के लिए जहां प्लास्टिक कभी कचड़ा न बने, उत्तर प्रदेश में प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट से जुड़े कई कार्यक्रम शुरू किए हैं। टाइडी ट्रेल्स पहल के तहत, दुकानों से एकत्रित किए गए सभी प्लास्टिक कचरे को छंटाई के लिए कचरा संग्रह करने वालों के पास भेजा जाएगा और बाद में रिसाइकल्ड किया जाएगा। इसे उपयोगी वस्तुओं जैसे बेंच और कुर्सियों में बदला जाएगा, जिन्हें आगरा के पार्कों और कार्यालयों में वितरित किया जाएगा। लॉन्च के मौके पर पेप्सिको इंडिया ने आगरा में रिसाइकल्ड प्लास्टिक से बनी 60 बेंच को भी वितरित किया गया।  

वर्चुअली तरीके से संबोधित करते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा, “प्लास्टिक प्रदूषण की चुनौती एक सामूहिक प्रयास की मांग करती है, जहां सार्वजनिक और निजी क्षेत्र सामाजिक भलाई के लिए मिलकर काम करते हैं। निजी क्षेत्र के नवाचार और संसाधनों, सरकार की प्रशासनिक क्षमता और सामाजिक जिम्मेदारी को मिलाकर, हम एक स्वच्छ, हरित भारत की दिशा में आगे बढ़ने के लिए एक रास्ता बना सकते हैं। मथुरा में अपने सफल लॉन्च के बाद आगरा में टाइडी ट्रेल्स जैसी पहल को शुरू करने के लिए हम पेप्सिको इंडिया को बधाई और शुभकामनाएं देते हैं।”

सैयद अरीब अहमद (आईपीएस, डीएसपी, आगरा पुलिस) ने कहा, “हम सकारात्मक बदलाव लाने और प्लास्टिक कचरे जैसी महत्वपूर्ण चुनौती से निपटने के लिए द सोशल लैब (टीएसएल) की भागीदारी में पेप्सिको के समर्पण की सराहना करते हैं। सरकार ऐसे सक्रिय इंडस्ट्री लीडर्स और निगमों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है, जो एक ऐसे वातावरण को बढ़ावा देते हैं, जो सर्वोत्तम प्रथाओं और स्थायी समाधानों को प्रोत्साहन देते हैं। आगरा के ऐतिहासिक महत्व को ध्यान में रखते हुए, हम पेप्सिको और टीएसएल टीम से आग्रह करते हैं कि वे भी शहर को स्वच्छ और हरा-भरा रखने में हमारा समर्थन करें।” 

विस्तार पर बोलते हुए, गरिमा सिंह (चीफ गवर्नेमेंट अफेयर्स और कम्यूनिकेशन ऑफिसर, पेप्सिको इंडिया) ने कहा, “पेप्सिको इंडिया में, हम अपने ‘विनिंग विथ पेप+’ दर्शन से निर्देशित हैं और निरंतर एक ऐसी दुनिया का निर्माण करने के लिए काम कर रहे हैं जहां रिड्यूसिंग, रिसाइक्लिंग और रीइनवेंटिंग के जरिये प्लास्टि को कभी भी कचरा नहीं बनने दिया जाता है। इस दृष्टिकोण के अनुरूप, हमनें 2021 में मथुरा वृंदावन में पोस्ट-कंज्यूमर प्लास्टिक वेस्ट को स्थायी रूप से मैनेज करने के लिए एक विशेष पहल ‘टाइडी ट्रेल्स’ की शुरुआत की थी। इसकी सफलता के बाद, हम आगरा नगर निगम के सहयोग से अब आगरा में यह कार्यक्रम शुरू करने के लिए उत्साहित हैं, जो लोगों को अपने स्थानीय वातावरण को साफ रखने और ‘स्वच्छता’ को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित करता है जिससे उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल होती है।” 

इस भागीदारी पर बोलते हुए, साहिल अरोरा (सीईओ, द सोशल लैब) ने कहा, “इस नेक पहल के लिए पेप्सिको इंडिया और आगरा नगर निगम के साथ भागीदारी करने पर हमें गर्व है। टीएसएल पर्यावरण संरक्षण और टाइडी ट्रेल्स जैसी सर्कुलर इकोनॉमी पहलों को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। आज की दुनिया में, प्लास्टिक सबसे बड़ी पर्यावरणीय चुनौतियों में से एक के रूप में उभरी है, लेकिन अगर इसे री-यूज और रीसाइकल्ड किया जाए, तो प्लास्टिक को तमाम तरीकों से उपयोगी बनाया जा सकता है, जिनके बारे में समाज को अभी तक पता नहीं है। टाइडी ट्रेल्स के माध्यम से, हमारा उद्देश्य प्लास्टिक कचरे के रीसाइक्लिंग और रीयूज को बढ़ावा देने के सामूहिक प्रयास में समाज, व्यवसायों और नीति निर्माताओं को एकजुट करना है।” 

टाइडी ट्रेल्स पहल की शुरुआत सितंबर 2021 में मथुरा-वृंदावन में की गई थी, जिसका उद्देश्य शहर के स्थानीय नागरिकों को अपने पर्यावरण को स्वच्छ रखने के लिए प्रोत्साहित करना और सशक्त बनाना एवं समुदायों के सभी सदस्यों को प्रेरित करने के लिए एक उदाहरण स्थापित करना था। कार्यक्रम के हिस्से के रूप में, पूरे शहर में 800 प्रतिष्ठानों से 25,000 किलोग्राम प्लास्टिक एकत्रित किया गया और इसमें 70 नगर निगम वार्ड शामिल थे। विभिन्न जागरूकता अभियानों, कार्यक्रमों, नुक्कड़ नाटकों और प्रतियोगिताओं के माध्यम से, यह पहल जिम्मेदारी प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट की दिशा में व्यवहार परिवर्तन पर ध्यान केंद्रित करने के साथ सफलतापूर्वक 6.2 लाख लोगों तक पहुंच चुकी है।