Friday , June 21 2024

पीआईबी ने सिद्धार्थनगर में ग्रामीण मीडिया के लिये आयोजित की “वार्तालाप” कार्यशाला

लखनऊ, (टेलिस्कोप टुडे संवाददाता)। भारत सरकार के केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्रालय के पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) द्वारा सिद्दार्थनगर जिले के विकास भवन स्थित अम्बेडकर सभागार में ग्रामीण पत्रकारों के लिये ‘’वार्तालाप’’ विषयक कार्यशाला आयोजित की गई। यहांँ प्रेस इन्फार्मेशन ब्यूरो (पीआईबी) लखनऊ ने ग्रामीण पत्रकारों को भारत सरकार द्वारा संचालित केंद्र सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में अवगत कराया। कार्यशाला में ग्रामीण पत्रकारों को सूचना प्रसारण मंत्रालय द्वारा संचालित पत्रकार कल्याण योजना के बारे में भी बताया गया। पीआईबी के मीडिया संचार अधिकारी सुन्दरम् चौरसिया ने ग्रामीण पत्रकारों को पीआईबी फैक्ट चेक के माध्यम से फेक न्यूज को पहचानने और उससे कैसे निपटें और उसके साधन भी बताये। कार्यक्रम में पीआईबी के व्यवस्था अधिकारी अविनाश शरण और सुशील प्रजापति ने ग्रामीण पत्रकारों को न्यू इंडिया समाचार पत्रिका, आजादी क्वेस्ट एप और पीआईबी एप के बारे में जानकारी दी तथा न्यू इंडिया समाचार पत्रिका का वितरण किया।

कार्यशाला को संबोधित करते हुये सांसद प्रतिनिधि अखंड पाल ने कहा कि पीआईबी द्वारा ग्रामीण इलाकों में इस तरह की कार्यशाला का आयोजन सराहनीय है। उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों के माध्यम से ग्रामीण पत्रकारों केन्द्र सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में पता चलता है।

विधायक प्रतिनिधि बालमुकुंद पाठक ने कहा कि विधायक हमेशा से पत्रकार के हितों और अधिकारों के बारे में सजग रहते हैं। उन्होंने कहा कि जिले में केंद्र सरकार की योजनायें जैसे प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी-ग्रामीण दोनों की प्रगति अच्छी है।

कार्यशाला को संबोधित करते हुये अतिरिक्त उपजिलाधिकारी विकास कश्यप ने कहा कि सिद्दार्थनगर जिले के पत्रकार अपनी लेखनी के माध्यम से हमेशा सधे विषयों को उठाते हैं जिससे आम जनता को लाभ होता है। उन्होंने कहा कि जनपद के पत्रकार लगातार ग्रामीण जनता को सरकार और प्रशासन द्वारा लिये गये नये फैसलों से अवगत कराते हैं। ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के संजय द्विवेदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी-ग्रामीण योजना पर ग्रामीण पत्रकारों को संबोधित करते हुये कहा कि केंद्र सरकार द्वारा संचालित इस योजना से एसे लोगों को पक्की छत मिली जो काफी लम्बे समय से मिट्टी या छप्पर के घर में रह रहे थे।सिद्दार्थनगर के आलोक श्रीवास्तव, बस्ती के अवधेश त्रिपाठी तथा प्रेस क्लब के मुकेश पुरी गोस्वामी, सिद्दार्थ प्रेस क्लब के संतोष श्रीवास्तव, पत्रकार जयप्रकाश गुप्ता ने ग्रामीण पत्रकारों का पक्ष भारत सरकार के सामने रखा और पत्रकारिता के सामने आने वाली चुनौती और अवसरों के बारे में अपने विचार रखे।

कार्यशाला में अपर जिला सूचना अधिकारी विमलेश कुमार, समाजसेवी राणा प्रताप सिंह, श्रीधर पांडेय और पत्रकार आलोक श्रीवास्तव, अनुराग श्रीवास्तव, संदीप मद्देशिया, राजेश शर्मा, कृपाशंकर भट्ट, प्रदीप वर्मा, सद्दाम खान, आरपी जोशी, राकेश यादव, कैलाश द्विवेदी, जितेन्द्र कुमार, अनिल तिवारी, शरद त्रिपाठी, विक्रांत श्रीवास्तव समेत कई पत्रकारों ने आयोजन में सहयोग दिया। कार्यक्रम का संचालन राजेन्द्र विश्वकर्मा उर्फ हरिहर ने किया।