Wednesday , April 24 2024

सीएम व केंद्रीय रक्षामंत्री ने लखनऊ में 1450 करोड़ रुपये की 352 विकास परियोजनाओं का किया लोकार्पण व शिलान्यास

लखनऊ के विकास का श्रेय योगी आदित्यनाथ को – राजनाथ 

रक्षा मंत्री के आह्वान पर आमजन ने खड़े होकर विकास के लिए योगी आदित्यनाथ का किया अभिवादन

बोले-योगी आदित्यनाथ ने सबसे अधिक समय तक सीएम रहने का रिकॉर्ड बनाया

रक्षा मंत्री बोले- विकास के लिए ऑक्सीजन है कानून व्यवस्था और दुनिया भी इससे है अवगत

सीएम योगी ने कहा- स्मार्ट लखनऊ को स्मार्ट सुविधाएं मिलें, उसमें रक्षा मंत्री का भी योगदान

लखनऊ। केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि लखनऊ या मोहनलालगंज के अंदर हुए विकास का श्रेय योगी आदित्यनाथ को देता हूं। केंद्रीय योजनाएं भले ही स्वीकृत क्यों न हों पर जब तक मुख्यमंत्री रूचि व ध्यान न दें, तब तक परियोजनाओं का पूरा होना संभव नहीं है। योगी जी ने इस दायित्व को तत्परता से दिखाया है। आप होली के रंग में रंगे हैं और लखनऊ विकास के रंग में रंगा दिख रहा है। उक्त बातें रक्षा मंत्री ने शनिवार को 1450 करोड़ की 352 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास समारोह में कहीं।

केंद्रीय रक्षा मंत्री ने कहा कि यूपी के लिए आज का दिन महत्वपूर्ण है, क्योंकि सीएम के रूप में योगी आदित्यनाथ आज छह वर्ष का कार्यकाल पूरा कर रहे हैं। यूपी में इतने लंबे समय तक कोई मुख्यमंत्री नहीं रहा। डॉ. संपूर्णानंद जी के सबसे लंबे समय तक यूपी के मुख्यमंत्री रहने का रिकॉर्ड योगी जी ने तोड़ दिया। 

देश-दुनिया के लोग जानते हैं कि कैसी है कानून व्यवस्था

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने योगी के सम्मान में लोगों को खड़ाकर ताली बजाकर अभिवादन कराया। उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था विकास की पहली शर्त व ऑक्सीजन होती है और यह वर्तमान में कैसी है। सिर्फ यूपी नहीं, बल्कि देश-दुनिया के लोग जानते हैं। 

न्यूज पोर्टल पर पढ़ा ‘अब तक 63’, अपराधी नहीं सुधरे तो सेंचुरी भी लगेगी

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि एक दिन न्यूज पोर्टल पर ‘अब तक 63’ देखा। उत्सुकतावश इसे पढ़ा तो जाना कि पुलिस मुठभेड़ में 63 अपराधी मारे जा चुके हैं। सफाई का जो काम चल रहा है, यदि अपराधी नहीं सुधरे तो वह सेंचुरी भी पूरा करेगा। यूपी को वन ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था बनाने के योगी आदित्यनाथ के सपने का कार्य तेजी से चल रहा है। सड़कों, सीवर प्लांट, सर्विस रोड आदि समेत कई योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास हो रहा है। यह पीएम की संवेदनशीलता व योगी की सूझबूझ से यह संभव हो रहा है।

5 नए फ्लाईओवर हो चुके स्वीकृत

राजनाथ सिंह ने सड़कों के बिछे जाल को गिनाया। अब तक 9 फ्लाईओवर बन चुके हैं। 3 का निर्माण चल रहा है। 5 नए फ्लाईओवर स्वीकृत हो चुके हैं। लखनऊ सिटी व चारबाग रेलवे स्टेशन को अमृत भारत स्कीम के तहत चयनित किया गया है। यह विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन के रूप में विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि योगी जी के नेतृत्व में जीआईएस व 2020 में डिफेंस एक्स्पो हुआ। देश-दुनिया से आए लोगों ने यहां की व्यवस्था की भूरि-भूरि प्रशंसा की। यह गौरव की बात है। राजनाथ ने कहा कि हमारी ख्वाहिश है कि लखनऊ सबसे सुंदर शहर हो। सीएम योगी के नेतृत्व में यह पूरी होगी।

सरकार व आमजन मिलकर कार्य करते हैं तो परिणाम कई गुना बढ़ जाते हैं – सीएम योगी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास अनवरत चलने वाली प्रक्रिया है। इसके लिए शासन-प्रशासन के साथ आमजन के मन में भी आत्मीयता होनी चाहिए। सुरक्षा के साथ सुशासन के लक्ष्य को प्राप्त करना है। सरकार व जनमानस साथ मिलकर कार्य करते हैं तो परिणाम कई गुना बढ़ जाते हैं। पीएम मोदी के नेत़ृत्व में भारत दुनिया में नई पहचान लेकर जा रहा है। जी-20 हो या शंघाई कॉरपोरेशन के अध्यक्षता के कार्यक्रम को बढ़ाया रहा है। नागरिक के रूप में हमारा भी दायित्व है कि पीएम मोदी के 2047 तक भारत को महाशक्ति के रूप में स्थापित कर विकसित भारत के सपने को साकार कर सकें।  

सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कॉल्विन तालुकेदार्स कॉलेज में यह बातें कहीं। उन्होंने केंद्रीय रक्षा मंत्री/लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह के साथ बटन दबाकर 1450 करोड़ रुपये की 352 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। 

अटल जी के सपने को पहले लालजी टंडन और अब राजनाथ जी बढ़ा रहे आगे

सीएम ने कहा कि लखनऊ को राजधानी के अनुरूप विकास की योजनाएं मिलें। यह सपना श्रद्धेय अटल जी ने देखा था और सांसद के रूप में उसे धरातल पर उतारा था। शहीद पथ लखनऊ के जीवन की लाइफलाइन बनी है। जब श्रद्धेय अटल जी प्रधानमंत्री व सड़क, परिवहन-राजमार्ग मंत्री के रूप में राजनाथ सिंह इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए कार्य कर रहे थे। उस समय लखनऊ को शहीद पथ की सौगात प्राप्त हुई थी। लालजी टंडन ने भी विकास के लिए अटल जी के सपनों को धरातल पर उतारने के प्रयास प्रारंभ किए थे। स्मार्ट सिटी लखनऊ को स्मार्ट जैसी सुविधाएं मिलें, उसके लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आए थे। 

जीआईएस के एक दिन पहले भी 3 ब्रिज समेत कई परियोजनाओं की मिली थी सौगात

सीएम ने कहा कि अभी जीआईएस के एक दिन पहले तीन ब्रिज समेत कई परियोजनाओं की सौगात मिली थी। आज फिर डेढ़ हजार परियोजनाओं की सौगात मिल रही है। यातायात की सबसे बड़ी समस्या का समाधान एलडीए निकाल रहा है। ग्रीन कॉरिडोर परियोजना के पहले फेज के शुभारंभ का शिलान्यास हुआ। यह लखनऊ की यातायात की समस्या का समाधान निकालेगी। किसान पथ को आईआईएम से जोड़ने का मार्ग होगा। गोमती नदी के दोनों तटों को जो़ड़कर सुंदरीकरण के साथ ऱिवर फ्रंट की कार्रवाई कैसी होनी चाहिए, यह नई सौगात मिलने जा रही है। नगर विकास मंत्री के रूप में जब आशुतोष टंडन कार्य कर रहे थे,  तब डीपीआर का काम किया था। आज वह धरातल पर उतारने जा रहा है। 

राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल का होना जा रहा निर्माण

सीएम ने कहा कि राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल का निर्माण होने जा रहा है। देश में दो प्रधान, दो निशान, दो विधान का उद्घोष करने वाले श्यामा प्रसाद मुखर्जी की स्मृति लखनऊ से जुड़ी रही हैं। डॉ. मुखर्जी राष्ट्रवाद के प्रखर प्रवक्ता के रूप में जाने जाते हैं। पं. दीनदयाल उपाध्याय, डॉ. मुखर्जी व लखनऊ के आन-बान-शान व समरसता-समन्वय के आदर्श पुरुष श्रद्धेय अटल जी की भव्य प्रतिमा के साथ राष्ट्र प्रेरणा स्थल का शिलान्यास हुआ। स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत नगर निगम ने अत्याधुनिक तकनीकों पर आधारित नए पार्क देने के कार्यक्रम बनाए हैं। 4512 आवास योजना की सौगात लखनऊ के गरीबों को मिलने जा रही है। ऑपरेशन कायाकल्प के अंतर्गत प्राथमिक विद्यालयों को सुदृढ़ीकरण व सुविधाओं से संपन्न करने,  बटलर व काला झील से जुड़ी योजनाओं का शुभारंभ हुआ। जी-20 व जीआईएस के दौरान प्रशासन ने कई चौराहों का सुंदरीकरण कराया। उनके रिमॉडलिंग कार्यक्रम की शुरुआत हो रही है।  

अतिथियों का स्वागत उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने किया। कार्यक्रम में केंद्रीय राज्यमंत्री कौशल किशोर, राज्यसभा सांसद अशोक वाजपेयी, निवर्तमान महापौर संयुक्ता भाटिया, विधायक आशुतोष टंडन ‘गोपाल’, डॉ. नीरज बोरा, योगेश शुक्ल,  अमरेश कुमार, मनीष रावत, विधान परिषद सदस्य डॉ. महेंद्र सिंह, मोहसिन रजा, मुकेश शर्मा, बुक्कल नवाब, इंजी. अवनीश कुमार सिंह, रामचंद्र प्रधान, उमेश द्विवेदी, आयुक्त रोशन जैकब, जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार आदि मौजूद रहे। 

सीएम व रक्षा मंत्री ने किया लोकार्पण

सीएम योगी आदित्यनाथ व रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 1450 करोड़ की 352 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। 

लोकार्पित होने वाली प्रमुख परियोजनाएं

भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान

स्टेट ग्राउंड वाटर इंफॉर्मेटिक्स सेंटर एवं भूजल भवन 

राजकीय पॉलिटेक्निक, बख्शी का तालाब

आसरा योजना, चुनूखेड़ा, पारा 

चंदरनगर में 50 बेड वाले चिकित्सालय भवन 

राजकीय उद्यान आलमबाग में निर्माण कार्य 

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत बसंत कुंज योजना में 2256 आवास

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत शारदानगर विस्तार योजना में 2256 आवास 

कबीरनगर देवपुर पारा आवासीय योजना में एसटीपी का निर्माण एवं अनुरक्षण कार्य 

शारदानगर विस्तार योजना में विद्युत आपूर्ति हेतु 33 केवी फीडर लाइन 

देवपुर पारा कबीरनगर योजना में 33/11 केवी विद्युत उपकेंद्र

इन प्रमुख कार्यों का हुआ शिलान्यास 

– 35वीं वाहिनी पीएसी में सिंथेटिक रनिंग ट्रैक 

– गोसाईंगंज अग्रिशमन केन्द्र में आवासीय / अनावासीय भवन

– प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत बसंत कुंज योजना में 4,512 आवास 

बसंत कुंज योजना में राष्ट्र प्रेरणा स्थल 

– कबीरनगर देवपुर पारा आवासीय योजना में ईडब्ल्यूएस, एलआईजी, एमएमआईजी भवनों का अवशेष निर्माण व विकास कार्य

-ग्रीन कॉरिडोर के अंतर्गत गऊ घाट पर सेतु और आईआईएम रोड से हार्डिंग ब्रिज तक बंधा व सड़क

– स्मार्ट सिटी परियोजना के अंतर्गत जनेश्वर मिश्र पार्क में 3 नग वाटर स्क्रीन एवं म्यूजिकल फाउंटेन                   

 – लखनऊ शहर में चौराहों की रीमॉडलिंग एवं प्लेस मेकिंग कार्य 

– बटलर पैलेस झील का सौंदर्यीकरण

-तालकटोरा क्षेत्र में काला पहाड़ झील का सौंदर्यीकरण 

– सीजी सिटी योजना में वेटलैंड का विकास कार्य             – गोमतीनगर विस्तार योजना सेक्टर-7 में सी.बी.डी. का विकास कार्य