Sunday , March 3 2024

AKTU : कंपनियों के अनुसार छात्रों को कर रहे तैयार, मिल रहा रोजगार

– विश्वविद्यालय ने इंडस्ट्री की मांग के तहत अपने छात्रों को समय-समय पर कार्यशाला, ट्रेनिंग के जरिये कर रहे प्रशिक्षित

– हाल के महीनों में कैंपस प्लेसमेंट के तहत सैकड़ों छात्रों को मिल चुकी है नौकरी

लखनऊ (शम्भू शरण वर्मा/टेलीस्कोप टुडे)। डॉ0 एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय अपने छात्रों को इंडस्ट्री की मांग के अनुसार तैयार कर रहा है। जिससे छात्रों को कैंपस प्लेसमेंट के दौरान कोई दिक्कत नहीं हो रही है। इसके लिए कुलपति प्रो. जेपी पांडेय के निर्देशन में ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट विभाग की ओर से समय-समय पर ऑनलाइन वर्कशॉप सहित ट्रेनिंग करायी जा रही है। साथ ही विशेषज्ञों को भी छात्रों को गाइड करने के लिए जोड़ा गया है। जिससे छात्र आसानी से साक्षात्कार को फेस कर सकें। इसका परिणाम भी देखने को मिल रहा है। हाल के दिनों में कैंपस प्लेसमेंट के जरिये विश्वविद्यालय के सैकड़ों छात्रों का चयन बहु राष्ट्रीय कंपनियों में अच्छे पैकेज और पद पर हुआ है। हाल ही में दो बड़ी कंपनियों ने ऑनलाइन लिये गये साक्षात्कार का रिजल्ट घोषित किया। इसमें 16 विद्यार्थियों का चयन हुआ है। खास बात ये रही कि इसमें आठ छात्राएं हैं।

नई तकनीकी की दे रहे ट्रेनिंग

विश्वविद्यालय ने संबद्ध संस्थानों के बीटेक, एमटेक, एमसीए और एमबीए छात्रों के लिए निःशुल्क चार से आठ सप्ताह का ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्स कराया है। इसमें विशेषज्ञों ने छात्रों को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग, पाइथन, क्लाउड कम्प्यूटिंग, एनालिटक्स, डाटा साइंस में प्रशिक्षित किया। दरअसल वर्तमान में इन तकनीकियों का तेजी से चलन बढ़ा है। ज्यादातर कंपनियां इनमें प्रशिक्षित छात्रों को अधिक मौका दे रही हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए यह इंटर्नशिप प्रोग्राम किया जा रहा है। इस ऑनलाइन कोर्स में बीटेक ‘‘सीएसई, आईटी, ईई, ईईई, ईसी, मैकेनिकल, सिविल और केमिकल इंजीनियरिंग सहित अन्य ब्रांच के अलावा एमबीए और एमसीए एमटेक छात्रों ने हिस्सा लिया था।

विशेषज्ञ दे रहे प्रशिक्षण

छात्रों को एक महीने के कोर्स के दौरान प्रशिक्षण उद्योग और तकनीकी विशेषज्ञों ने दिया। जिससे की छात्र सीधे इंडस्टी की मांग के अनुसार तैयार हो सकें। इस दौरान छात्रों के लिए डाउट सेशन भी हुआ। वहीं छात्रों को साक्षात्कार के लिए तैयार किया गया साथ ही बायोडाटा बनाने के टिप्स भी मिले।

हाल के दिनों में केपीएमजी, इस्टार्लिन एण्ड विल्सन, टीसीएस, इंफोसिस, आर्टेक, श्रीराम ट्रांसपोर्ट, स्टार पेपर मिल और नगेरो, इंडस टावर लिमिटेड, हेल्थवाच टेलीडायग्नोस्टिक सहित अन्य कंपनियों ने कैंपस प्लेसमेंट कराया है।  

पांच सौ से ज्यादा को मिली नौकरी

पिछले दो महीनों की बात करें तो विश्वविद्यालय के करीब पांच सौ से ज्यादा छात्रों को विभिन्न बहुराष्ट्रीय कंपनियों में कैंपस प्लेसमेंट के तहत नौकरी मिली है। ट्रेनी सिस्टम इंजीनियर से लेकर सिस्टम इंजीनियर के पद पर छात्रों का चयन हुआ है। वहीं सालाना पैकेज भी साढ़े तीन लाख से लेकर सात लाख रूपये तक रहा है। डीन ट्रेनिंग एण्ड प्लेसमेंट प्रो0 अरूणिमा वर्मा ने बताया कि जल्द ही बहुत सी कंपनियां विश्वविद्यालय में प्लेसमेंट के लिए आने वाली हैं। जो कंपनियां फिलहाल साक्षात्कर ले रही हैं उनका भी रिजल्ट जल्द ही आयेगा।