Tuesday , March 5 2024

मोदी योगी की सरकार में पसमांदा मुस्लिम को मिला राजनीतिक, आर्थिक व सामाजिक लाभ : जावेद मलिक

कैराना (टेलीस्कोप टुडे डेस्क)। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा पश्चिम उत्तर प्रदेश व अखिल भारतीय पसमांदा मुस्लिम मंच द्वारा आयोजित पसमांदा मुस्लिम सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए अल्पसंख्यक मोर्चे के पश्चिम क्षेत्र अध्यक्ष व अखिल भारतीय पसमांदा मुस्लिम मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष जावेद मलिक ने कहाकि केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार के शानदार 9 वर्ष उपलब्धियों भरे 9 वर्ष, इन 9 वर्षों ने इस देश की तस्वीर बदलने का काम किया है। 2014 से पहले देश में अराजकता का माहौल था, आये दिन दंगे होते थे, डर का माहौल था, भय का माहौल था। लेकिन 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद किसी में हिम्मत नही हैं कोई दंगा कर दे या आतंकी घटना को अंजाम दे दे। सरकार के शानदार 9 वर्षों में अल्पसंख्यक समाज का तीव्र गति के साथ विकास हुआ है। पीएम ने किसी धर्म देखकर योजनाओं का लाभ नही दिया बल्कि उसकी गरीबी देखकर योजनाओं का लाभ दिया है। 

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में 2017 से पहले जंगलराज था लेकिन योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद अब कानून का राज है। उत्तर प्रदेश जैसी कानून व्यवस्था कहीं नही है। गुंडे अब खुद गले मे तख्ती डालकर थाने में जाकर आत्मसमर्पण कर रहे हैं। प्रदेश में अब सुकून का और अमन चैन का माहौल है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे पूर्व मंत्री व विधान परिषद सदस्य चौधरी वीरेंद्र सिंह जी ने कहाकि पीएम नरेंद्र मोदी ने सबका साथ सबका विकास नारे को स्पष्ट किया है। मोदी योगी सरकार में पसमांदा मुसलमानो को सामाजिक, राजनीतिक व आर्थिक लाभ पहुँचा है।

कार्यक्रम का संचालन अखिल भारतीय पसमांदा मुस्लिम मंच के जिलाध्यक्ष इमरान अहमद ने किया। इस दौरान मंच पर उपस्थित उप्र सरकार मदरसा बोर्ड सदस्य व अखिल भारतीय पसमांदा मुस्लिम मंच के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. इमरान अहमद, इंजिनियर अनवर, उपाध्यक्ष सगीर प्रधान, गुलबहार चौधरी, मोर्चा जिलाध्यक्ष सचिन जैन, कय्यूम मलिक, शारिक ज़िया, पसमांदा मुस्लिम मंच के जिला प्रभारी साजिद, नईम मलिक, डा. दिलशाद, नफीस सलमानी, फ़िरदौस कुरैशी, तालीम, रियाजुद्दीन प्रधान, अहसान चौधरी, जब्बार प्रधान आदि ने भी सम्बोधित किया।