Sunday , March 3 2024

पिछली सरकारों ने केवल बांटने का काम किया, समाज में पैदा की खाई : योगी

– बस्ती में चुनावी जनसभा में विपक्ष पर गरजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

– कहा- त्रेतायुगीन इस पावन भूमि ने दशकों तक झेला है उपेक्षा का दंश

– आज बस्ती में है अपना मेडिकल कॉलेज है : योगी

– मुख्यमंत्री ने नगर निकाय चुनाव में बीजेपी प्रत्याशियों के लिए मांगे वोट

बस्ती। हर रोज चार से पांच जिलों में धुंआधार चुनाव प्रचार कर रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बस्ती में विपक्ष पर जमकर हमलावर रहे। उन्होंने पिछली सरकारों पर बस्ती को उपेक्षित रखने का आरोप लगाते हुए कहा कि विपक्षी दलों ने केवल बांटने का काम किया है। समाज में जाति, मत-मजहब के नाम पर खाई पैदा की है। मगर आज ना केवल बस्ती में विकास का पहिया तेजी से घूम रहा है बल्कि कोई सोच भी नहीं सकता था कि इस जिले का अपना मेडिकल कॉलेज होगा, जोकि डबल इंजन की सरकार में साकार हुआ है। बस्ती में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि त्रेतायुगीन ये पावन भूमि ना केवल पौराणिक महत्व रखती है, बल्कि ऐतिहासिक दृष्टिकोण से भी इसका बहुत महत्व है। 

कभी बस्ती के बारे में चर्चित था, “बस्ती को बस्ती कहूं तो का को कहूं उजाड़”

अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बस्ती प्रभु श्रीराम के जन्म के लिए पुत्रेष्टि यज्ञ की भूमि है। ये महर्षि वशिष्ठ की भूमि है। ना केवल पौराणिक बल्कि ऐतिहासिक दृष्टि से स्मरणीय है। आजादी की लड़ाई में अनेक क्रांतिकारियों ने शहादत देकर देश के लिए अपना योगदान दिया था। साहित्यकारों की इस भूमि ने पिछली सरकारों की उपेक्षा का दंश झेला। एक साहित्यकार ने तो यहां तक कहा था कि बस्ती को बस्ती कहूं तो का को कहूं उजाड़। आज बस्ती इस मुहावरे से ऊपर उठकर नये ओज और तेज के साथ विकास के नये प्रतिमान स्थापित करते दिख रही है। आज महर्षि वशिष्ठ के नाम पर यहां मेडिकल कॉलेज है। 

बेटी के जन्म पर अब गाए जाते हैं सोहर, “बेटी आई है सुमंगला लाई है”

मुख्यमंत्री ने डबल इंजन सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि अब किसी माता बहन को धुंए से फेफड़े का रोग नहीं होता है, क्योंकि यहां सभी घरों में उज्ज्वला योजना का लाभ पहुंचा दिया गया है। हमने तय किया है कि दीपावाली और होली में फ्री गैस सिलेंडर प्रदान करेंगे। गरीबों को आयुष्यमान भारत योजना के तहत 5 लाख का स्वस्थ्य बीमा भी डबल इंजन की सरकार ने दिया है। अब बस्ती में जब बेटी का जन्म होता है तो सोहर बजते हैं कि बेटी आई है सुमंगला आई है। बेटी के जन्म से लेकर पढ़ाई लिखाई और विवाह तक सभी सुविधाएं सरकार उपलब्ध करा रही है। 

पिछली सरकार ने किसानों पर चलवाई थी गोलियां, हमने दी चीनी मिल की सौगात 

सीएम ने कहा कि कभी इसी मुंडेरवा में किसानों पर पिछली सरकारों ने गोलियां चलवाई थी। हमारी सरकार ने यहां नई चीनी मिल लगा दिया है। आज ये चीनी मिल यहां की पहचान बन रहा है। जिन लोगों ने कभी विकास का विजन नहीं देखा, वो विकास क्या करा पाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में आज भारत की पहचान दुनिया में सबसे विश्वसनीय देश के रूप में बनी है। भारत आज वैश्विक नेता के रूप में उभरा है। संकट काल में दुनिया भारत की ओर देखती है। एक तरफ विश्व में मान बढ़ा है तो दूसरी ओर भारत के अंदर में हाईवे का जाल, रेलवे का निर्माण, मेडिकल कॉलेज, यूनिवर्सिटी, आईआईटी और एम्स जैसे संस्थानों का निर्माण तेज गति से चल रहा है।

युवाओं के टैलेंट को टेक्नोलॉजी से जोड़ रहे हैं हम

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के विजन को मिशन के रूप में लेकर हमने पिछले 6 साल में काम किया है। 2017 के पहले नगरों में शोहदों का आतंक हुआ करता था। व्यापारी से रंगदारी वसूली जाती थी। गलियों मोहल्लों में जल-जमाव की समस्या होती थी, पेयजल की समस्या होती थी। मगर आज हमाने युवाओं के हाथों में तमंचे नहीं टैबलेट देने का काम किया है। प्रदेश के दो करोड़ युवाओं को हम टैबलेट देने जा रहे हैं। 3600 करोड़ की इस योजना के जरिए युवाओं के टैलेन्ट को टेक्नोलॉजी से जोड़ा जाएगा, जिससे उनके सामने रोजगार के सुनहरे अवसर उपलब्ध हो सकें। आज प्रदेश में शोहदों का आतंक नहीं है बल्कि सेफ सिटी है, हमारे शहर स्मार्ट सिटी हो रहे हैं। ये करिश्मा डबल इंजन सरकार का है। अब इसके साथ ट्रिपल इंजन भी जुड़ना चाहिए।

पैसों का सही उपयोग हो, इसके लिए बनाएं ट्रिपल इंजन की सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि अकेले बस्ती जनपद में 12 हजार से अधिक गरीबों को मकान का लाभ मिला है। 4 हजार से अधिक पीएम छोटे व्यापारियों को पीएम स्वनिधि योजना का लाभ मिला है। यहां पर 14 हजार से अधिक निराश्रित महिलाओं, 9 हजार से अधिक दिव्यांगजन और 12 हजार से अधिक वृद्धजनों को सालाना 12 हजार रुपए पेंशन देने का काम किया जा रहा है। यही नहीं 1 लाख 97 हजार से अधिक आयुष्मान गोल्डेन कार्ड भी बस्ती की गरीब जनता के लिए बनवाए गये हैं। साथ ही 6 नये नगर पंचायतों का सृजन भी डबल इंजन का काम है। हर घर नल योजना स्वीकृत की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास के लिए पैसे की कमी नहीं है। उस पैसे का सही उपयोग हो इसके लिए मैं आपसे अपील करने आया हूं। पैसों का सही उपयोग केवल डबल इंजन की सरकार ही कर सकती है। इस अवसर पर प्रदेश सरकार के मंत्री राकेश सचान सहित, संसद, बीजेपी क्षेत्रीय अध्यक्ष, जिलाध्यक्ष, जिला प्रभारी, जिला पंचायत अध्यक्ष सही सभी नगर निकायों के चेयमैन और पार्षद पद के प्रत्याशी गण मौजूद रहे।