Tuesday , July 16 2024

AKTU : कार्यशाला में इन्क्युबेशन सेंटर स्थापना करने की बनी रूपरेखा

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय के इनोवेशन हब की ओर से मंगलवार को राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस पर संबद्ध संस्थानों में इन्क्युबेशन सेंटर स्थापना के लिए कार्यशाला का आयोजन किया गया। कुलपति प्रो. जेपी पांडेय के निर्देशन में आयोजित इस कार्यशाला में विश्वविद्यालय से संबद्ध लखनऊ, आयोध्या, बाराबंकी और सीतापुर के संस्थानों के प्रतिनिधि ने प्रतिभाग किया। जिसमें उन्हें इन्क्युबेशन सेंटर स्थापित करने की प्रक्रिया के बारे में बताया गया। एसो0 डीन इनोवेशन डॉ. अनुज कुमार शर्मा ने इन्क्युबेशन सेंटर के लिए सरकार की ओर से चलाई जा रही योजनाओं और वित्तीय सहायता की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इन्क्युबेशन सेंटर के जरिये छात्रों के साथ ही स्थानीय इनोवेटर्स को प्रोत्साहित कर स्टार्टअप शुरू कराया जा सकता है। इससे न केवल छात्रों को आत्मनिर्भर बनने में मदद मिलेगी बल्कि रोजगार के सृजन भी होंगे।

इनोवेशन हब के हेड महीप सिंह ने स्टार्टअप पालिसी 2020 की जानकारी साझा की। उन्होंने बताया कि इन्क्युबेशन सेंटर स्थापित करने से संस्थानों को काफी फायदा होगा। इस मौके पर इनोवेशन हब मैनेजर वंदना शर्मा और रितेश सक्सेना ने भी अपने अनुभव बताये। आपको बता दें कि नवाचार और उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए विश्वविद्यालय अपने सभी संबद्ध संस्थानों में इन्क्युबेशन सेंटर स्थापित कराने में लगा हुआ है। जिससे कि छात्रों में उद्यमिता और नवाचार की संस्कृति विकसित हो सके। साथ ही आत्मनिर्भर भारत के सपने को सच करने में भी छात्र अपना योगदान दे सकें।