Tuesday , July 16 2024

यूपी महोत्सव : कवियों और साहित्यकारों के सम्मान संग राममय हुआ सांस्कृतिक पंडाल

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट के तत्वावधान में आयोजित यूपी महोत्सव में जिस तरह से कवि और साहित्यकारों द्वारा अपनी रचनाएं प्रस्तुत की जा रही है। यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगा कि इससे अच्छा मंच और कहीं नहीं हो सकता जहां पर प्रतिभा दिखाने के लिए मंच के साथ ही सम्मान भी मिल रहा हो। पोस्टल ग्राउंड अलीगंज में चल रहे 16वें यूपी महोत्सव की 14वीं सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि मौजूद केंद्रीय राज्यमंत्री कौशल किशोर ने किया। संस्था के अध्यक्ष विनोद कुमार सिंह व उपाध्यक्ष एनबी सिंह ने पौधा एवं राममंदिर का प्रतीकात्मक मॉडल भेंट कर मुख्य अतिथि का स्वागत किया।

केंद्रीय राज्यमंत्री कौशल किशोर ने कहाकि संस्था द्वारा ‘क्लीन भारत, ग्रीन भारत’ का जो संकल्प लिया गया है निसंदेह बहुत ही सराहनीय है। प्रधानमंत्री ने भी आह्वान किया है कि 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला जब अपने घर पधारें तो सभी देशवासी अपने आसपास के सभी प्रकार के अंधेरों को दूर करने का प्रयास करें। जिसमें पर्यावरण, प्रदूषण, नशाखोरी, नारी सशक्तिकरण, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि यह सब कुछ शामिल है। यदि हम इस अंधेरे को समाप्त करेंगे तो यही सच्चा राम राज्य होगा। कौशल किशोर ने कहा कि हमें अपने बच्चों को हॉस्टल की जगह घरों में रखकर पढ़ाना होगा और भारतीय संस्कार देना होगा। हमें अपने जीवन में घमंड को त्यागना होगा, हम जो हैं वही बताना होगा। उन्होंने कहा कि जीवन हमको सरल बनाना है और अपने अंदर के अहम को अपने से दूर रखना है, यही सच्चे भारतीय का गुण और कर्तव्य है।

मुख्य अतिथि ने डॉ. माधुरी वर्मा एवं गीतिका चतुर्वेदी को राम मंदिर का प्रतीकात्मक मॉडल देकर यूपी गौरव सम्मान से सम्मानित किया। मुख्य अतिथि कौशल किशोर, संस्था के अध्यक्ष विनोद कुमार सिंह व उपाध्यक्ष एनबी सिंह ने राम सीता की आरती की।

महोत्सव में अखिल भारतीय कवि लोक सृजन संस्थान के सौजन्य से आयोजित एक मुक्त काव्य एवं सम्मान समारोह में कवियों और साहित्यकारों को सम्मानित किया गया। डॉ. शिवमंगल सिंह मंगल की अध्यक्षता में हुए कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि निर्भय नारायण निर्भीक, विशिष्ट अतिथि त्रिवेणी प्रसाद दुबे और डॉ. सुल्तान शाकिर उपस्थित रहे। समारोह का संचालन ओम नीरव और संयोजन भारतीय पायल ने किया। सम्मानित होने वाले कवियों में डॉ. श्रीमंगल सिंह मंगल, प्रकाश, मनमोहन सिंह, रमा जैन अग्रवाल, निवेदिता श्रीवास्तव, कामिनी श्रीवास्तव, मृत्युंजय प्रसाद गुप्ता, रमाशंकर सिंह, अशोक कुमार श्रीवास्तव, डॉ. मधु पाठक मुख्य थे।

इस अवसर पर पवन पाल, दिलीप कुमार श्रीवास्तव, प्रिया सिंह चौहान, अंजुम, शिवम सिंह, पार्षद राघव राम तिवारी सहित गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।