Friday , March 1 2024

IIM लखनऊ में CFA इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी एफिलिएशन कार्यक्रम शुरू

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। इन्वेस्टमेंट प्रोफेशनल्स के वैश्विक संगठन सीएफए इंस्टीट्यूट ने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट लखनऊ को CFA इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी एफिलिएशन प्रोग्राम (UAP) में शामिल करने की घोषणा की है।

यह गठबंधन कुशल प्रबंधकों और नेतृत्वकर्ताओं का विकास करने के आईआईएम लखनऊ के उद्देश्य के अनुरूप किया गया है। जिससे विद्यार्थियों को इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट उद्योग में सफल होने के लिए आवश्यक कौशल प्राप्त करने में मदद मिलेगी। इस कार्यक्रम के माध्यम से विद्यार्थियों को CFA पदनाम प्राप्त करने में मदद मिलेगी, जो कि दुनिया में सबसे सम्मानित और मान्यता प्राप्त प्रमाण पत्र है। भारत में CFA प्रोग्राम की बढ़ती माँग के साथ, CFA इंस्टीट्यूट ने भी लखनऊ के साथ ही भारत के 23 शहरों में परीक्षा केंद्र खोलकर देश में अपनी उपस्थिति बढ़ाई है।

यूनिवर्सिटी एफिलिएशन प्रोग्राम के लिए संस्थान या यूनिवर्सिटी को अपने पाठ्यक्रम में कम से कम 70 प्रतिशत CFA प्रोग्राम कैंडिडेट बॉडी ऑफ नॉलेज (सीबॉक) को शामिल करना होता है। इस एफिलिएशन के बाद आईआईएम लखनऊ को CFA इंस्टीट्यूट के साथ काम करने की सुविधा मिलेगी, ताकि कक्षाओं में व्यावहारिक ज्ञान दिया किया जा सके। इससे विद्यार्थियों को तो लाभ मिलेगा ही, साथ ही वे विभिन्न सत्रों में उद्योग के वैश्विक नेतृत्वकर्ताओं से इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट उद्योग के बारे में बहुमूल्य जानकारी भी प्राप्त कर सकेंगे। उन्हें सीखने के लिए अन्य अद्वितीय अवसर भी प्राप्त होंगे। इसके अलावा, चुनिंदा विद्यार्थियों को CFA परीक्षा के लिए छात्रवृत्ति और शुल्क में भी छूट मिल सकेगी।

डीन, फैकल्टी आईआईएम लखनऊ प्रो. अजय गर्ग ने कहा, “CFA इंस्टीट्यूट UAP छात्रों को स्कॉलरशिप प्रदान करते हुए, फाइनेंस और प्रोफेशनल डेवलपमेंट के मामले में क्वालिटी एजुकेशन को बढ़ावा दे रहा है। यह आपसी सहयोग हर गुणों से संपन्न छात्रों को तैयार करता है, जो छात्रों को बेहतरी पर ध्यान केंद्रित करने में मदद करने के साथ-साथ इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट में सर्वश्रेष्ठ बनाने में सहयोग करता है।”

कंट्री हेड, इंडिया सीएफए इंस्टीट्यूट आरती पोरवाल ने कहा, “हमें CFA इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी एफिलिएशन प्रोग्राम के साथ आईआईएम लखनऊ का स्वागत करते हुए खुशी हो रही है और हम इस पार्टनरशिप के तहत होने वाले सहयोग को लेकर उत्साहित हैं। हम इन्वेस्टमेंट मैनेजमेंट इंडस्ट्री और देश की अर्थव्यवस्था के निर्माण के लिए आवश्यक टैलेंट पूल को एकसाथ मिलकर तैयार करने के लिए तत्पर हैं।”

CFA इंस्टीट्यूट के हाल ही में हुए ग्लोबल ग्रेजुएट आउटलुक सर्वे के अनुसार, “भारतीय ग्रेजुएट्स के बीच नई आकांक्षाएं देखने को मिली हैं, जो आर्थिक आशावाद को दर्शाता है। जिनमें से लगभग आधे लोग अपने करियर की संभावनाओं पर सकारात्मक दृष्टिकोण बनाए रखने के साथ-साथ करियर में उन्नति के लिए प्रोफेशनल डेवलपमेंट और अपस्किलिंग की अनिवार्य भूमिका के बारे में जागरूकता बढ़ा रहे हैं। इसलिए आईआईएम लखनऊ जैसे प्रमुख एजुकेशनल इंस्टीट्यूशंस, CFA इंस्टिट्यूट जैसे प्रोफेशनल समूहों और इंडस्ट्री को एक साथ आने व उन्हें अपने प्रोफेशनल स्किल्स को तेजी से बढ़ाने तथा भविष्य के लिए तैयार होने के अवसर प्रदान करने की सख्त आवश्यकता है।”

डीन, प्रोग्राम्स आईआईएम लखनऊ, प्रो. विकास श्रीवास्तव ने कहा, “यह साझेदारी हमारे प्रमुख एमबीए प्रोग्राम को और अधिक समृद्ध बनाती है, जो छात्रों को शुरुआती फाइनेंसियल स्किल्स और सीखने के अलग-अलग अवसरों के साथ अधिक सशक्त बनाने का काम करती है। CFA इंस्टीट्यूट के साथ जुड़कर, यह छात्रों को गतिशील और प्रासंगिक शिक्षा सुनिश्चित कराते हुए आवश्यक नॉलेज, स्किल्स और इंडस्ट्री लीडरशिप क्षमताओं को प्राप्त करने के साधनों से लैस करती है।”