Tuesday , March 5 2024

सीएम योगी ने आगरा मेट्रो ट्रेन के हाई स्पीड ट्रायल रन का किया शुभारंभ

आगरा वासियों को फरवरी 2024 में मिलेगी ‘आगरा मेट्रो ट्रेन’ की सेवा

– 3 किमी लंबे एलिवेटेड वायाडक्ट ट्रैक पर हाई स्पीड में दौड़ी आगरा मेट्रो

– पीएम मोदी के द्वारा देशवासियों को दी जा रही बेहतरीन पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सुविधा: सीएम योगी

– जामा मस्जिद मेट्रो स्टेशन का बदला नाम, अब होगा मनकामेश्वर मंदिर मेट्रो स्टेशन

– प्रशासनिक अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ सीएम ने की विकास कार्यों की समीक्षा

आगरा (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। बुधवार को आगरा मेट्रो ट्रेन प्रायोरिटी कॉरिडोर पर अपनी पूरी स्पीड के साथ दौड़ी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ताज ईस्ट गेट मेट्रो स्टेशन पर आगरा मेट्रो के हाई स्पीड ट्रायल रन का शुभारंभ किया। इस दौरान सीएम योगी ने आगरा मेट्रो ट्रेन और मेट्रो स्टेशन का निरीक्षण भी किया। वहीं आगरा मेट्रो ट्रेन परियोजना के अंतर्गत चल रहे निर्माण कार्यों की भी यूपीएमआरसी के अधिकारियों से जानकारी ली। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सर्किट हाउस में प्रशासनिक अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर जनपद में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा भी की।

विकास कार्यों की ली जानकारी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को शाम करीब 5.45 बजे मथुरा से खेरिया एयरपोर्ट पर पहुंचे। वहां से मुख्यमंत्री योगी ने सीधे सर्किट हाउस पहुंचकर जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों से जिले में चल रहे विकास कार्यों के बारे में जानकारी ली। करीब आधा घंटा जनप्रतिनिधियों से बातचीत के बाद सीएम ने शाम 6.30 बजे प्रशासनिक अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। मुख्यमंत्री ने जनपद में चल रहे विकास कार्यों, सरकार द्वारा चलाई जा रही परियोजनाओं की वर्तमान स्थिति के बारे में अधिकारियों से बारीकी से जानकारी ली। इसके बाद शाम 7 बजे सीएम योगी आदित्यनाथ ने ताज ईस्ट गेट मेट्रो स्टेशन पर मेट्रो ट्रेन कोच का फीता काटकर आगरा मेट्रो के हाई स्पीड ट्रायल रन का शुभारंभ किया। सीएम योगी ने मेट्रो ट्रेन कोच का जायजा भी लिया।

समय से पहले पूरी होगी परियोजना

सीएम योगी ने कहा कि आगरा के विकास के लिए पीएम मोदी के नेतृत्व और मार्गदर्शन में जो नित नई परियोजनाएं आ रही है, मेट्रो उनमें से एक है। आगरा मेट्रो का शिलान्यास पीएम मोदी ने 2020 में किया था। आगरा मेट्रो परियोजना का प्रायोरिटी कॉरिडोर जो ताज पूर्वी गेट से लेकर आगरा के मन:कामेश्वर मंदिर तक 6 किमी का है, इस कार्य को 6 माह पूर्व ही पूरा कर लिया जाएगा। जो अगस्त 2024 में पूरा होना था, वह अब फरवरी 2024 में ही पूरा करने के लक्ष्य के साथ पहले एलिवेटेड तीन स्टेशन आगरा मेट्रो के बनकर तैयार हो चुके हैं। आज मेट्रो की ट्रेन यहां उपलब्ध हो चुकी है और ट्रायल शुरू हो चुका है। आगरा वासियों को पीएम मोदी ने जो आश्वासन दिया था, उसके अनुरूप समय के पहले आगरा मेट्रो का काम पब्लिक ट्रांसपोर्ट की बेहतरीन सुविधा, आगरा वासियो और आगरा आने वाले सभी पर्यटकों को उपलब्ध होगी। अब इसके हाई स्पीड ट्रायल का शुभारंभ होने जा रहा है। पहले जो ट्रायल चल रहा था वो 30 से 40 किमी प्रतिघंटा की स्पीड से चल रहा था। 60 से 80 किमी प्रतिघंटा की स्पीड पर भी आगरा मेट्रो ट्रेन चलेगी, इसका ट्रायल आज से प्रारंभ होने जा रहा है। जिससे समय से प्रायोरिटी कॉरिडोर के 6 किमी के कार्य को फरवरी 2024 तक कंप्लीट करके आगरा वासियों को आगरा मेट्रो की सेवा यूपीएमआरसी के माध्यम से उपलब्ध कराया जा सके। यह कार्य आरम्भ होने जा रहा है। 

हर आगरावासी अपनी मेट्रो पर गौरव की अनुभूति कर पाएगा

सीएम योगी ने कहा कि आगरा मेट्रो के 29 किमी के पहले चरण के कार्य को तेजी से आगे बढ़ाना है। उत्तर प्रदेश, देश के अंदर पांच शहरों में मेट्रो का सफलतापूर्वक संचालन करने वाला देश का अग्रणी राज्य है। जिसमें लखनऊ, कानपुर, गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा में वर्तमान में मेट्रो संचालित हो रही है। कानपुर में मेट्रो का उद्घाटन पीएम मोदी के द्वारा पहले ही हो चुका है। अब उसके आगे के कार्य तेजी के साथ आगे बढ़ रहे हैं। उन्होने कहा कि पीएम मोदी के द्वारा पब्लिक ट्रांसपोर्ट की अत्याधुनिक सुविधा देशवासियों को दी जा रही है। एक तरफ मेट्रो से आगरा भी जुड़ने जा रहा है, वहीं रैपिड रेल की सुविधा भी दिल्ली मेरठ के बीच तेजी से विकसित की जा रही है। दिल्ली मेरठ के बीच में रैपिड रेल के कार्य के पूरा होने के बाद इस दूरी को 40 मिनट में पूरा करने में मदद मिलेगी। उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कारपोरेशन के द्वारा समयबद्ध तरीके से अपने सभी कार्यों को मानक की गुणवत्ता को बनाए रखते हुए पूरा किया जा रहा है। सीएम योगी ने मेट्रो रेल परियोजना के लिए उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कारपोरेशन के अधिकारियों को बधाई भी दी। सीएम ने कहा कि आगरा उत्तर प्रदेश का छठा शहर है, जहां मेट्रो का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। सीएम योगी ने आगरा के जनप्रतिनिधियों के द्वारा आगरा के विकास के लिए किए गए प्रयासों की प्रशंसा करते हुए आगरा वासियों को आगरा मेट्रो की अग्रिम बधाई दी। उन्होंने कहा कि जब हम फरवरी 2024 में आगरा मेट्रो के उद्घाटन के अवसर पर आगरा में आऐंगे, तो अद्भुत क्षण आगरा वासियों के लिए होगा और हर आगरावासी अपनी मेट्रो पर गौरव की अनुभूति कर पाएगा।

विश्व स्तरीय होगी मेट्रो सेवा

यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक सुशील कुमार ने कहा कि यूपीएमआरसी ने हमेशा मेट्रो परियोजनाओं को समय पर या समय से पहले निष्पादित किया है। इस बार भी हम आगरा के लोगों को तय समय सीमा से पहले विश्व स्तरीय मेट्रो सेवा पहुंचाने की उपलब्धि अर्जित करेंगे। गौरतलब है कि आगरा मेट्रो डिपो में पहले से ही मेट्रो का लो स्पीड ट्रायल किया जा रहा था। अब मेट्रो ट्रेनों का हाई स्पीड ट्रायल तीन एलिवेटेड स्टेशनों वाले 3 किमी लंबे एलिवेटेड वायाडक्ट पर शुरू होगा, जो 6 किमी लंबे पहले कॉरिडोर के प्रायोरिटी सेक्शन (ताज ईस्ट गेट मेट्रो स्टेशन से जामा मस्जिद तक) का एक हिस्सा है। बता दें कि आगरा मेट्रो रेल परियोजना के अंतर्गत कुल 29.4 किलोमीटर लंबाई के दो कॉरिडोर हैं। पहला कॉरिडोर ताज ईस्ट गेट से सिकंदरा तक जाता है और यह 13.7 किलोमीटर लंबा है। इस कॉरिडोर में 6 एलिवेटेड और 7 अंडरग्राउंड स्टेशन हैं। दूसरा कॉरिडोर आगरा कैंट से कालिंदी विहार तक जाता है और 15.7 किलोमीटर लंबा है। यह पूरा कॉरिडोर एलिवेटेड है जिसमें 14 मेट्रो स्टेशन शामिल हैं।

आगरा मेट्रो ट्रेन की विशेषताएं

आगरा मेट्रो रेल परियोजना के लिए मेट्रो ट्रेनों के लुक का अनावरण उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा 8 अगस्त 2022 को किया गया।

सभी मेट्रो ट्रेन रीजेनरेटिव ब्रेकिंग सिस्टम से लैस हैं और इससे 35 प्रतिशत तक ऊर्जा की बचत होगी।

ट्रेनों में कार्बन डाइऑक्साइड आधारित सेंसर भी लगे हैं जो ऊर्जा की बचत करते हैं। 

ट्रेनों का प्रबंधन और संचालन विश्व स्तरीय आगरा मेट्रो डिपो से किया जाएगा। 

स्वचालित सीबीटीसी मोड (कम्युनिकेशन बेस्ड ट्रेन कंट्रोल) से संचालित किया जाएगा, जिससे ट्रेन संचालन बिल्कुल सुरक्षित हो जाएगा।