Sunday , April 21 2024

4 मार्च को संविधान सम्मान रैली के माध्यम से ताकत दिखाएगी आरपीआई

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। 4 मार्च को रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आठवले) लखनऊ में संविधान सम्मान रैली करने जा रही है। जिसमें पूरे प्रदेश से आरपीआई कार्यकर्ता जुट रहे हैं। रैली की तैयारियां करीब एक महीने से चल रही है। शहीद पथ स्थित अवध विहार योजना मैदान में होने वाली इस रैली के माध्यम से आरपीआई उत्तर प्रदेश में अपनी ताकत दिखाने जा रही है।

आरपीआई (आठवले) के प्रदेश कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश अध्यक्ष पवन भाई गुप्ता ने कहा कि संविधान सम्मान रैली की तैयारी पिछले एक महीने से चल रही है। बीते 29 फरवरी को लखनऊ में प्रदेश पदाधिकारी सम्मेलन के दौरान राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केंद्रीय मंत्री डॉ. रामदास आठवले ने संविधान सम्मान रैली की घोषणा की थी। उसके बाद से प्रदेश के समस्त जिलों के ग्रामीण, शहरी, कस्बों में जा-जाकर, बैठकें करके संविधान सम्मान रैली में कार्यकर्ताओं को आने का निमंत्रण दिया गया है। 4 मार्च को भारी संख्या में कार्यकर्ता रैली में जुटने जा रहे हैं। आरपीआई एनडीए गठबंधन में है, वहीं उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार में हिस्सेदारी की मांग हम लगातार कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा से तीन सीटों की मांग भी आरपीआई कर रही है। संविधान सम्मान रैली में देश के गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा उत्तर प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी को भी आमंत्रित किया गया है।

पवन भाई गुप्ता ने कहा कि पार्टी बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के समतामूलक समाज के विचार को आगे बढ़ा रही है। उत्तर प्रदेश के कोने-कोने में आरपीआई कार्यकर्ता बाबा साहेब के विचार को जन-जन तक पहुँचाने का कार्य कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश का बहुजन समाज, शोषित, वंचित, अल्पसंख्यक सहित हर वर्ग आरपीआई के साथ जुड़ रहा है। आरपीआई के कार्यकर्ता ज़मीन पर उतरकर जनता के मुद्दों, उनके अधिकारों के लिए संघर्ष कर रहे हैं। आरपीआई उत्तर प्रदेश में सामाजिक न्याय की लड़ाई को मजबूत कर रही है। हर गरीब को बिल्कुल निःशुल्क शिक्षा, चिकित्सा देने की माँग आरपीआई कर रही है। जाति आधारित जनगणना को लेकर आरपीआई प्रयासरत है।