Tuesday , July 16 2024

नुक्कड़ नाटक के माध्यम से छात्राओं ने बताया फाइलेरिया से बचाव का उपाय

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। विश्व नॉन ट्रॉपिकल डिजीज (एनटीडी) दिवस के मौके पर मंगलवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सरोजिनी नगर और उच्च प्राथमिक विद्यालय माती में फाइलेरिया जागरूकता कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसके तहत स्वास्थ्य विभाग के तत्वावधान एवं सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफॉर) के सहयोग से यूपी राजकीय सैनिक स्कूल की छात्राओं द्वारा नुक्कड़ नाटक मंचित किया गया। जिसके माध्यम से लोगों को 10 से 28 फरवरी तक चलने वाले वाले सर्वजन दवा सेवन (आईडीए) की जानकारी दी गई। नुक्कड़ नाटक का मंचन आकांक्षा सिंह, वंशिका सिंह, कशिश गौतम, अंशिका त्रिपाठी, प्राची कश्यप द्वारा किया गया।

इस मौके पर सीएचसी अधीक्षक डा. चंदन सिंह ने कहाकि आईडीए अभियान राष्ट्रीय फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम के तहत चलाया जाता है। जिसके तहत साल में एक बार फाइलेरिया रोधी दवा आइवरमेक्टिन डाईइथाइल कार्बामजीन और एलबेंडाजोल खिलाई जाती है। फाइलेरिया एक लाइलाज व गंभीर बीमारी है और प्रबंधन के आभाव मे व्यक्ति को विकलांग भी बना सकती है। इसलिए 10 फरवरी से शुरू होने वाले आईडीए अभियान के तहत फाइलेरिया रोधी दवा का सेवन जरूर करें।

उपस्थित जन समुदाय को प्रचार प्रसार सामग्री और नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जानकारी दी कि आईडीए अभियान के तहत फाइलेरियारोधी दवा का लगातार तीन साल तक सेवन करने से फाइलेरिया से बचा जा सकता है। दो साल से कम के बच्चों, गर्भवती महिला और अति गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्तियों को छोड़कर सभी को फाइलेरियारोधी दवा का सेवन करना है। यह दवा पूरी तरह से सुरक्षित है। दवा का सेवन खाली पेट नही करना है।

उच्च प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक मनोज ने कहाकि नाटक बहुत ही शिक्षाप्रद था। नाटक से फाइलेरिया के लक्षण और बचाव की जानकारी मिली। माती गांव निवासी ममता ने बताया कि नाटक के माध्यम से पता चला कि फाइलेरिया मच्छर से होता है और इससे बचाव किस तरह से किया जा सकता है। वह लगातार तीन साल से फाइलेरिया रोधी दवा का सेवन कर रही हैं और दवा सेवन के बाद उन्हें कोई दिक्कत नहीं हुई है।

इस मौके बीसीपीएम प्रशांत श्रीवास्तव, स्वास्थ्य पर्यवेक्षक हरकेश, सीएचसी का स्टाफ, विश्व स्वास्थ्य संगठन से कुलदीप, यूनिसेफ से सुनीता उपाध्याय, शिक्षक आशा रानी, सीएचओ आशुतोष, आशा कार्यकर्ता, सीफॉर के प्रतिनिधि और स्थानीय नागरिक मौजूद रहे।

इसी क्रम में बक्शी का तालाब ब्लॉक के फाइलेरिया नेटवर्क के सदस्यों ने अपने अपने क्षेत्रों से फाइलेरिया जागरूकता रैली निकाली। जिसका समापन सीएचसी बक्शी का तालाब पर सभासद राकेश कुमार, विकास खंड अधिकारी पूजा पांडे और सीएचसी अधीक्षक डा. जेपी सिंह ने किया।इसके साथ ही काकोरी, माल और मोहनलालगंज में फाइलेरिया प्लेटफार्म के सदस्यों ने लोगों को फाइलेरिया रोधी दवा का सेवन करने के लिए जागरूक किया।