Monday , July 15 2024

भारत हस्तशिल्प महोत्सव : आजादी के जश्न संग भोजपुरी गीतों ने बांधा समां

लखनऊ (टेलीस्कोप टुडे संवाददाता)। प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट एवं प्रगति इवेंट के तत्वावधान में चल रहे भारत हस्तशिल्प महोत्सव में 75वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर संस्था के अध्यक्ष विनोद कुमार सिंह ने ध्वजारोहण किया। उन्होंने कहा कि हमारा देश विश्व के सबसे बड़े संविधान को मानने और उसका पालन करने वाला देश है। देश में हर व्यक्ति को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता प्राप्त है। समाज के सभी लोग अपनी पद्धति से पूजा अर्चना से लेकर अपने अधिकारों का उपयोग सामान्य रूप से कर सकते हैं। यही हमारे संविधान की विशेषता है। उपाध्यक्ष एनबी सिंह ने सभी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी। महोत्सव में सांस्कृतिक कार्यक्रम में गणतंत्र दिवस की धूम दिखाई दी। अनेकों संस्थाओं ने गणतंत्र दिवस पर अपनी प्रस्तुतियां दी और पूरे माहौल को देशभक्ति से सराबोर कर दिया।

शैक्षिक, साहित्यिक और संस्कृति उत्थान को समर्पित मां विंध्यवासिनी ट्रस्ट लोक जागृति कार्यशाला समिति द्वारा महोत्सव में आयोजित नमामि राम साहित्य समारोह में कवि, कवित्रियों ने अपनी प्रस्तुति से समां बांधा। कार्यक्रम का प्रारंभ श्रीराम स्तुति की प्रस्तुति से हुआ। संस्था की अध्यक्षा साधना मिश्रा द्वारा आयोजित समारोह में प्रभु श्री राम की कीर्ति गाथा को प्रतिभागियों ने गीत, गजल, भजन, कविता व छंदों में प्रस्तुत करते हुए अपने उल्लास, अभिलाषाएं व्यक्त की।

सुरभि कल्चरल ग्रुप द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम और हुनरमंद कन्याओं को सुरभि कन्या विशिष्ट सम्मान दिया गया। संस्था के कलाकारों ने ‘कौशल्या दशरथ के नंदन’, ‘मेरे घर राम आए हैं’, ‘नाच रही राधिका’, ‘फेरो ना नजरिया’, ‘श्री रामचंद्र चरणम’, ‘छाप तिलक सब’ पर प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का संयोजन शैलेंद्र सक्सेना (सचिव, सुरभि कल्चरल ग्रुप) ने किया।

परियों साहित्यिक सामाजिक संस्था ने कवि सम्मेलन एवं मुशायरे का आयोजन किया। कार्यक्रम में शिवमंगल सिंह, गुरु ओम नीरव, सौरभ बाजपेई, हर्षित मिश्रा, अजय तोमर, अतीक, प्रिया सिंह, बलवंत सिंह ने भाग लिया। महोत्सव की सांस्कृतिक संध्या में भोजपुरी लोक गायिका प्रिया पाल सिंह ने एक से बढ़कर एक भोजपुरी गीतों को प्रस्तुत कर हर किसी को झूमने और ताली बजाने पर मजबूर कर दिया।